जय वासुदेव : रामरतन भटनागर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Jay Vasudev : by Ramratan Bhatnagar Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

जय वासुदेव : रामरतन भटनागर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - उपन्यास | Jay Vasudev : by Ramratan Bhatnagar Hindi PDF Book - Novel (Upanyas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name जय वासुदेव / Jay Vasudev
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 203
Quality Good
Size 7 MB
Download Status Available

पुस्तक का बिबरण : इस उपन्यास में लेखक ने पग-पग पर ऐतिहासिक तत्वों की रक्षा की है, परन्तु साथ ही अनेक ऐतिहासिक और अनैतिहासिक चरित्रों की नई रूप-रेखा भी गठी है जिससे ऐतिहासिक तथ्य में साहित्यकला और रस का संचार हो सका है। उपन्यास के केंद्र है महाभाष्यकार महर्षि पतंजलि। अबतक हिंदी के पाठक उन्हें वैयाकरण……..

Pustak Ka Vivaran : Is upanyas mein lekhak ne pag-pag par Eitihasik tatvon kee raksha kee hai, parantu sath hee anek aitihasik aur anaitihasik charitron kee nayi roop-rekha bhee gadhi hai jisase aitihasik tathy mein sahityakala aur ras ka sanchar ho saka hai. Upanyas ke kendr hai mahabhashyakar maharshi patanjali. Abatak hindi ke pathak unhen vaiyakaran…………

Description about eBook : In this novel, the author has preserved historical elements on pagpag, but has also coined a new pattern of many historical and notorious characters, which has led to the transmission of literary and rasa in historical fact. The center of the novel is the great-grandfather Maharshi Patanjali. So far the readers of Hindi Vyayakaran………..

“आप अपने पास दुखों को आने से नहीं रोक सकते हैं, लेकिन आप उन दुखों से घबराएं नहीं, ऐसा तो आप कर सकते हैं।” ‐ चीनी कहावत
“You cannot prevent the birds of sorrow from flying over your head, but you can prevent them from building nests in your hair.” ‐ Chinese Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment