काय ऊर्जा एवं उसकी चमत्कारी शक्ति : पं० श्रीराम शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – विज्ञान | Kay Urja Evam Uski Chamatkari Shakti : by Pt. Shriram Sharma Hindi PDF Book – Science (Vigyan)

काय ऊर्जा एवं उसकी चमत्कारी शक्ति : पं० श्रीराम शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - विज्ञान | Kay Urja Evam Uski Chamatkari Shakti : by Pt. Shriram Sharma Hindi PDF Book - Science (Vigyan)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name काय ऊर्जा एवं उसकी चमत्कारी शक्ति / Kay Urja Evam Uski Chamatkari Shakti
Author
Category,
Language
Pages 41
Quality Good
Size 1.8 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : प्रकृति का अन्तराल अपार विधुत संपदा से भरा हुआ है | जब से मानव की अन्वेषण-बुद्धि जागृत हुई, उसने इस विपुल सामध्य को जानकारी एवं सदुपयोग में स्वयं को लगाया तथा उसे अपना घनिष्ट सहयोग बना लिया | वैज्ञानिक बताते है कि पृथ्वी की तरह और वायुमंडल के आयनोस्फियर्स के मध्य लगभग तीन लाख वोल्ट की शक्ति का धन विद्युत्‌ विभव है………

Pustak Ka Vivaran : Prakrti ka antaral apar vidhut sampada se bhara hua hai. Jab se manav ki anveshan-buddhi jagrt hui, usne is vipul samathy ko jankari evan sadupayog mein svayan ko lagaya tatha use apna ghanisht sahayog bana liya. Vaigyanik batate hai ki prthvi kee tarah aur vayumandal ke aayanosphiyars ke madhy lagbhag teen laakh volt ki shakti ka dhan vidyut vibhav hai………..

Description about eBook : The interval of nature is full of immense wealth. Since human awakening was awakened, he imposed this priceless ability in information and utilization and made it his close cooperation. Scientists say that the power of about three lakh volt power in the middle of the Earth and the ionosphere of the atmosphere is electric………………

“एक रत्ती भर कर्म एक मन बात के बराबर है।” राल्फ वाल्डो इमर्सन
“An ounce of action is worth a ton of theory.” Ralph Waldo Emerson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment