महाविद्या महाकाली साधना : सुमित गिरधरवाल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Mahavidya Mahakali Sadhna : by Sumit Girdharwal Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

Book Nameमहाविद्या महाकाली साधना / Mahavidya Mahakali Sadhna
Author
Category, , ,
Language
Pages 13
Quality Good
Size 355 KB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : जो साधक अपने इष्ट देवता का निष्काम भाव से अर्चन करता है और लगातार उसके मंत्र का जप करता हुआ उसी का चिन्तन करता रहता है, तो उसके जितने भी सांसारिक कार्य हैं उन सबका भार मां स्वयं ही उठाती हैं और अन्ततः मोक्ष भी प्रदान करती हैं। यदि आप उनसे पुत्रवत्‌ प्रेम करते हैं तो वे मां के रूप में वात्सल्यमयी होकर आपकी प्रत्येक कामना को उसी प्रकार…

Pustak Ka Vivaran : Jo Sadhak apne isht devata ka Nishkam bhav se Archan karta hai aur lagatar uske Mantra ka jap karta huya usi ka Chintan karta rahata hai, to uske jitane bhi Sansarik kary hain un sabka bhar man svayan hi uthati hain aur antat: Moksh bhi pradan karti hain. Yadi aap unase Putravat‌ prem karte hain to ve man ke roop mein Vatsalyamayi hokar Apki pratyek kamana ko usi prakar……

Description about eBook : The seeker who worships his Ishta deity with devotion and keeps on thinking about him by chanting his mantra continuously, then the mother herself bears the burden of all the worldly works and ultimately gives salvation. . If you love her sonly, then she will be as loving as a mother and fulfill your every wish in the same way…….

“हमारे द्वारा कार्य के लिए लगाए गए समय महत्त्व का इतना नहीं है, जितना महत्त्व इस बात का है कि लगाए गए समय के दौरान हमने कितनी गंभीरता से प्रयास किया।” ‐ सिडने मैडवैड.
“It is not the hours we put in on the job, it is what we put into the hours that counts.” ‐ Sidney Madwed

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment