मैं उल्लू हूँ : दीनदयाल शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Main Ulloo Hun : by Deendayal Sharma Hindi PDF Book – Story (Kahani)

मैं उल्लू हूँ : दीनदयाल शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Main Ulloo Hun : by Deendayal Sharma Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मैं उल्लू हूँ / Main Ulloo Hun
Author
Category, ,
Language
Pages 119
Quality Good
Size 1 MB
Download Status Available

मैं उल्लू हूँ का संछिप्त विवरण : इस पुस्तक के संपादन एवं प्रकाशन-कार्य ने मुझे आदरणीय बंधुवर डॉ. मलोहरलाल जी (अध्यक्ष : हिंदी-विभाग, श्रीराम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स, दिल्‍ली) का विशेष सहयोग एवं मार्गदर्शन मिल्रा है। इसके लिए मैं उनका हृदय से आभारी हु। भाई स्वयं प्रकाश, रघुनन्दन प्रसाद शर्मा, सुभाष एवं जवाहर चोपड़ा के सहयोग के बिता……….

Main Ulloo Hun PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is Pustak ke Sampadan evan prakashan-kary ne mujhe Aadaraniya bandhuvar do. Manoharalal jee (Adhyaksh : hindi-vibhag, shreeram Collge of Commers, dillee) ka vishesh sahayog evan Margadarshan mila hai. Isake liye main unaka hrday se Aabhari hu. Bhai Svayan prakash, Raghunandan prasad sharma, subhash evan javahar chopada ke sahayog ke bina……..
Short Description of Main Ulloo Hun PDF Book : The editing and publication of this book has given me the special support and guidance of Dr. Manohar Lal Ji (Chairman: Department of Hindi, Shri Ram College of Commerce, Delhi). I am deeply grateful to him for this. Without the support of Bhai Swayam Prakash, Raghunandan Prasad Sharma, Subhash and Jawahar Chopra ………
“मकसद की निश्चितता सभी उपलब्धियों का प्रारंभिक बिंदु है।” डब्लू क्लिमेंट स्टोन
“Definiteness of purpose is the starting point of all achievement.” W Clement Stone

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment