पाकिस्तान : गोविन्द दास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Pakistan : by Govind Das Hindi PDF Book – Drama (Natak)

पाकिस्तान : गोविन्द दास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - नाटक | Pakistan : by Govind Das Hindi PDF Book - Drama (Natak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name पाकिस्तान / Pakistan
Author
Category,
Language
Pages 167
Quality Good
Size 10 MB
Download Status Available

पाकिस्तान पुस्तक का कुछ अंश : स्थान-दिल्ली में हुमायूँ के मक़बरें के बगीचे का एक हिस्सा। समय-सन्ध्या
एक ओर कुछ दूर मक़बरे की गुंबद और उसके नीचे की इमारत का कुछ भाग दिखायी पड़ता है। बाग के इस हिस्से में एक बेंच पर जहाँनारा और शांतिप्रिय बैठे हुए हैं। जहाँनारा की उम्र २३-२४ साल के क़रीब है । वह गेहुएँ रंग की ऊँची-पूरी सुन्दर युवती है । रेशमी साड़ी आर शलूका पहने है। पैरों में दिल्ली के कामदार जूते हें । दाहिने हाथ में सोने की कुछ चूड़ियाँ और बायें हाथ में घड़ी है। इनके सिवा बदन पर और कोई गहने नहीं हे । शांतिप्रिय की अवस्था १७-१८ वर्ष के लगभग………….

Pakistan PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Sthan-Delhi mein Humayoon ke maqabaren ke bageeche ka ek hissa. Samay-sandhya ek or kuchh door maqbare ki gumbad aur uske neeche ki imarat ka kuchh bhag dikhayi padata hai. Bag ke is hisse mein ek bench par jahannara aur shantipriy baithe huye hain. Jahannara ki umr 23-24 sal ke qareeb hai. Vah gehuen rang ki Unchi-poori sundar yuvati hai. Reshami sari aar shalooka pahane hai. Pairon mein Delhi ke kamdar joote hen. Dahine hath mein sone ki kuchh choodiyan aur bayen hath mein ghadi hai. Inke siva badan par aur koi gahane nahin he. Shantipriy ki avastha 17-18 varsh ke lagbhag………….
Short Passage of Pakistan Hindi PDF Book : Location – A part of the garden of Humayun’s Tomb in Delhi. Time-evening. On one side, the dome of the mausoleum and some part of the building below it are visible at some distance. Jahanara and Shantipriya are sitting on a bench in this part of the garden. Jahanara’s age is around 23-24 years. She is a tall, beautiful young woman of wheatish complexion. Wearing silk saree and shluka. The workers of Delhi have shoes on their feet. There are some gold bangles in the right hand and a watch in the left hand. Apart from these there are no other ornaments on the body. Shantipriya’s stage is about 17-18 years……….
“एक बार काम शुरू कर लें तो असफलता का डर नहीं रखें और न ही काम को छोड़ें। निष्ठा से काम करने वाले ही सबसे सुखी हैं।” ‐ चाणक्य
“Once you start a working on something, don’t be afraid of failure and don’t abandon it. People who work sincerely are the happiest.” ‐ Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment