हिंदी संस्कृत मराठी धर्म विज्ञानं

पांच कवि / Panch Kavi

पांच कवि : श्री जिनेन्द्र मुनि द्वारा हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Panch Kavi : by Shri Jinendra Muni Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name पांच कवि / Panch Kavi
Author
Category,
Language
Pages 268
Quality Good
Size 5 MB
Download Status Available

पांच कवि पुस्तक का कुछ अंशसंगीत का प्रभाव मनवी जगत पर यानी नहीं, बाल्की पशु-पक्षी तथा वनस्पति जड़ जगत पर भी गहरा गिरा है। संगीत की सुमधुर स्वर लहरी को श्रवण कर पानीघर डोल जाते हैं। हीरन स्वभाव विस्मृत हो जाते हैं। अनुश्रुति है कि अकबर बादशाह के दरबार में वजुबवारा, तानसेन आदि कुछ ऐसे संगीत द ……………

Panch Kavi PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Sangeet ka prabhaav manveey jagat par ie nahin, balki pashu-pakshi tatha vanaspati jad jagat par bhi gahra girta hai. Sangeet ki sumadhur svar lahari ko shravan kar phanighar dol jaate hain. Heeran svabhaav vismrt ho jaate hain. anushruti hai ki Akbar Baadshaah ke darbaar mein vaazubavara, taansen aadi kuchh aise sangeetagy the………….
Short Passage of Panch Kavi Hindi PDF Book : The effect of music falls not only on the human world, but also in the world of animal-bird and vegetation. The whirlwind gets drowned after listening to the loud music of music. Deer nature disappears. It is auspicious that there were some musicians like Vazubvara, Tansen, in the court of the emperor of Akbar…………….
“स्वास्थ्य की हानि होने पर न तो प्रेम, न ही सम्मान, न ही धन-दौलत और न ही बल द्वारा हृदय को खुशी मिल सकती है।” – जॉन गे
“Nor love, not honour, wealth nor power, can give the heart a cheerful hour when health is lost. ” – John Gay

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment