पतिता : आचार्य चतुरसेन शास्त्री द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Patita : by Acharya Chatursen Shastri Hindi PDF Book – Story (Kahani)

पतिता : आचार्य चतुरसेन शास्त्री द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Patita : by Acharya Chatursen Shastri Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name पतिता / Patita
Author
Category,
Language
Pages 143
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

पतिता पुस्तक का कुछ अंश : मेरा नाम आनन्दी है | जब मेरी उम्र ग्यारह वर्ष की थी, तब मैं अपनी मोसी के साथ दिल्ली आई | मैंने कभी दिल्ली देखी न थी | बहुत तारीफ सुनी थी | बिजली की रोशनी, ट्राम, पंखे, मोटर-सब कुछ मेरे लिए स्वप्न सा था | अब तक मैं देहात में रही, पहाड़ो में खेली और बड़ी हुई थी | मेरे माँ-बाप जमीदार थे, नाम जबान पर लाना नहीं चाहती……

Patita PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Mera naam Aanandi hai. Jab meri umr gyarah varsh ki thi, tab main apni mosi ke sath Dilli aai. Mainne kabhi Dilli dekhi na thi. Bahut tariph suni thi. Bijli ki roshni, tram, pankhe, motar-sab kuchh mere lie svapn sa tha. Ab tak main dehat mein rahi, pahado mein kheli aur badi hui thi. Mere maan-baap jamidar the, naam jaban par lana nahin chahti…………
Short Passage of Patita Hindi PDF Book : My name is fun. When I was eleven years old, I came to Delhi with my moss. I had never seen Delhi. Had listened very much praise Lightning, tram, fan, motor-everything was a dream for me. So far I was in the countryside, played in the hills and grew up. My parents were landlords, do not want to bring the name on the tongue………….
“कुछ लोग जिसे ग़लती से जीवन स्तर की बढ़ती कीमतें समझ बैठते हैं, वह वास्तव में बढ़ चढ़ कर जीने की कीमत होती है।” ‐ डग लारसन
“What some people mistake for the high cost of living is really the cost of living high.” ‐ Doug Larson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment