प्राचीन मुद्रा : गौरीशंकर हीराचंद ओझा द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Prachin Mudra : by Gaurishankar Hirachand Ojha Hindi PDF Book

प्राचीन मुद्रा : गौरीशंकर हीराचंद ओझा द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Prachin Mudra : by Gaurishankar Hirachand Ojha Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name प्राचीन मुद्रा / Prachin Mudra
Author
Category, ,
Language
Pages 368
Quality Good
Size 12.3 MB
Download Status Available

प्राचीन मुद्रा का संछिप्त विवरण : लिपिबद्ध ऐतिहासिक घटनाओं की तरह प्राचीन सिक्के भी गुप्त इतिहास का उद्धार करने का एक साधन है। यदपि सिक्कों का प्रमाण प्रत्यक्ष होता है, तथापि यह नहीं कहा जा सकता की इन सिक्कों के द्वारा केवल राजा के अस्तित्व के अतिरिक्त जिसके नाम से वे मुद्रछ्चित होते है, और भी कुछ प्रमाणित होता हो……..

Prachin Mudra PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : lipibaddh aitihaasik ghatanaon kee tarah praacheen sikke bhee gupt itihaas ka uddhaar karane ka ek saadhan hai. yadapi sikkon ka pramaan pratyaksh hota hai, tathaapi yah nahin kaha ja sakata kee in sikkon ke dvaara keval raaja ke astitv ke atirikt jisake naam se ve mudrachhit hote hai, aur bhee kuchh pramaanit hota ho………….
Short Description of Prachin Mudra PDF Book : Like ancient historiographical events, ancient coins are also a means of delivering secret history. If the proof of coins is direct, it can not be said that except through the coins, except for the existence of the king, in which they are printed, and also some are proven……………
“आयु आपकी सोच में है। जितनी आप सोचते हैं उतनी ही आपकी उम्र है।” ‐ मुहम्मद अली
“Age is whatever you think it is. You are as old as you think you are.” ‐ Muhammad Ali

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment