समस्त हिन्दू व्रत कथा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Samast Hindu Vrat Katha Hindi PDF Book

Book Nameसमस्त हिन्दू व्रत कथा / Samast Hindu Vrat Katha
Category, , , , , , , , , , ,
Pages 382
Quality Good
Size 29.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इस व्रत को दिन भर निराहार रहकर स्त्रियों-दवारा किया जाता है। रात्रि में चंद्रोदय होने के बाद दीवार पर बनी अहोई माता के चित्र के सामने किसी एक लोटे में जल भरकर रख दे। चाँदी-दबारा निर्मित चांदी की स्याऊ की मूर्ति और दो गुडिया रखकर उसे मौली मे गूंधले | तत्पश्चात रोली, अक्षत से उनकी पूजा करे। पूजा करने के बाद दूध-भात, हकवा आदि का उन्हें नैवेदय अर्पित करे……….

Pustak Ka Vivaran : Is vrat ko din bhar nirahar rahakar striyon-dwara kiya jata hai. Ratri mein chandroday hone ke bad deevar par bane ahoee maata ke chitra ke samane kisi ek lote mein jal bharakar rakh de. chandi-dwara nirmit chandi ke syaoo ki moorti aur do gudiya rakhakar use mauli me goondhale . tatpashchat roli, akshat se unakee pooja kare. pooja karane ke bad doodh-bhaat, hakava adi ka unhen naivedy arpit kare………….

Description about eBook : This fast is carried out by women during the day. After having a moonlit in the night, keep the water in a single lot in front of the picture of Ahoi Mata on the wall. Silver-sculpted statue of silver and two dolls and dumped it in Molly. After that Roli, worship him with ankanth. After performing the pooja, he should offer milk, rice, hakwa etc……………

“जब हम अपने विचारों को सही दिशा निर्देशन प्रदान करते हैं, तो हम अपनी भावनाओं को नियंत्रित कर सकते हैं।” ‐ डब्ल्यू. क्लेमेंट स्टोन
“When we direct our thoughts properly, we can control our emotions.” ‐ W. Clement Stone

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment