शिशु रोग चिकित्सांक : आचार्य रघुवीरप्रसाद त्रिवेदी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Shishu Rog Chikitsank : by Acharya Raghuvir Prasad Trivedi Hindi PDF Book

शिशु रोग चिकित्सांक : आचार्य रघुवीरप्रसाद त्रिवेदी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Shishu Rog Chikitsank : by Acharya Raghuvir Prasad Trivedi Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name शिशु रोग चिकित्सांक / Shishu Rog Chikitsank
Author
Category, , ,
Pages 487
Quality Good
Size 30.61 MB
Download Status Available

शिशु रोग चिकित्सांक का संछिप्त विवरण : इस पुस्तक में हर प्रकार के झारने के असली कंठस्थ मंत्र हैं तथा अनेक रोगों पर आजमाये हुये औषधियों के पाठ हैं। मंत्रों में जैसे सर्प, बिच्छू, जहर, बुखार, बाता, पेट दर्द ब पेट के रोग, आंख, माया, आंख के दर्द में फूला, दांत के दर्द, थनैला, गाहा आदि झारने के असली मंत्र हैं। विष पर हाथ चलाने, साली साटने, गांडर बांचने का मंत्र है और इन रोगों पर आजमाये हुये औषधियों के पाठ हैं और भूत-प्रेतादि भगाने का मंत्र है तथा लोटा घुमाने, चोरी गये हुये पर कटोरा चलाने का मंत्र, नोह पर चोरी गये माल का पता लगाने का अनेकों प्रकार के मंत्र हैं………..

Shishu Rog Chikitsank PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is pustak mein har prakar ke jharane ke asali kanthasth mantr hain tatha anek rogon par ajamaye huye aushadhiyon ke path hain. Mantron mein jaise sarp, bichchhoo, jahar, bukhar, vata, pet dard va pet ke rog, ankh, maya, ankh ke dard mein phoola, dant ke dard, thanaila, gaha adi jharane ke asali mantr hain. Vip par hath chalane, sali satane, gandar banchane ka mantr hai aur in rogon par ajamaye huye aushadhiyon ke path hain aur bhoot-pretadi bhagane ka mantr hai tatha lota ghumane, chori gaye huye par katora chalane ka mantr, noh par chori gaye mal ka pata lagane ka anekon prakar ke mantr hain………….
Short Description of Shishu Rog Chikitsank PDF Book : In this book, there are real memories of every kind of Jharna and there are lessons of many drugs used on many diseases. In the mantras such as snakes, scorpions, poisons, fever, abnormalities, abdominal pain and stomach diseases, are the real mantras of eye, delusion, bloated pain, toothache, thumb, etc. There is a mantra for running hands on the vip, chanting, chanting of the tongue, and these diseases are the lessons of the drugs tested and the mantra of the exorcism and the rotation of the lota, the mantra to run the bowl on being stolen, the goods stolen at Noah There are many kinds of spells to find out………….
“यदि आप अपने काम के महत्त्व का आदर करेंगे तो शायद वह भी बदले में ऐसा ही करेगा।” ‐ एल. डी. टर्नर
“If you respect your job’s importance, it will probably return the favour.” ‐ L.D. Turner

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment