श्री तन्त्रालोक : डा० परमहंस मिश्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – तन्त्र मन्त्र | Shri Tantralok : by Dr. Paramhans Mishra Hindi PDF Book – Tantra Mantra

Book Nameश्री तन्त्रालोक /| Shri Tantralok
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 653
Quality Good
Size 104 MB
Download Status Available
 चेतावनी– यह पुस्तक केवल शोध कार्य के लिए है| इस पुस्तक से होने वाले परिणाम के लिए आप स्वयं उत्तरदायी होंगे न कि 44Books.com

पुस्तक का विवरण : ‘श्रीतन्त्रालोक’ के द्वितीय संस्करण की प्रस्तावना लिखते हुए मैं अतिशय प्रसन्नता का अनुभव कर रहा हूँ| यह ग्रन्थ आचार्य जयरथ की ‘विवेक’ टीका एवं तन्त्रसाधना के अग्रणी आचार्य श्री परमहंस मिश्र के हिन्दी-भाषामय ‘नीरक्षीरविवेक’ के साथ आठ खण्डों में इस विश्वविद्यालय द्वारा प्रकाशित हुआ है………..

Pustak Ka Vivaran : Shri Tantralok ke dvitiya sanskaran ki prastavana likhte hue main atishay prasannata ka anubhav kar raha hoon. Yah granth Acharya Jayarath ki ‘Vivek’ teeka evam Tantrasadhana ke agrani Acharya Shri Paramahans Mishra ke hindi-bhashamay Neeraksheeravivek ke saath aath khandon mein is vishvavidyalay dwara prakashit hua hai………..

Description about eBook : I am feeling very happy while writing the preface of the second edition of ‘Sritantralok’. This book has been published by the university in eight volumes with the Hindi-language ‘Neerakshirvivek’ of Acharya Jayarath’s ‘Vivek’ commentary and the leading teacher of Tantrasadhna, Shri Paramahansa Mishra…………

“शिक्षक द्वार खोलते हैं; लेकिन प्रवेश आपको स्वयं ही करना होता है।” ‐ चीनी कहावत
“Teachers open the door; you enter by yourself.” ‐ Chinese proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment