त्रिपिण्डीश्राद्धपद्धति : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – धार्मिक | Tripindi Shraddh Paddhati : Hindi PDF Book – Religious (Dharmik)

Book Nameत्रिपिण्डीश्राद्धपद्धति / Tripindi Shraddh Paddhati
Category, , , ,
Language
Pages 65
Quality Good
Size 28.4 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : उनका संस्थापन तथा पूजन होता है। तदनन्तर विष्णु ब्रह्मा तथा रुद्रसूक्तों का पाठ करनेके लिये तीन ब्राह्मणों का वरण होता है तथा सूक्‍्तों का पाठ करते हुए कलशों का अभिमन्त्रण किया जाता है। सूक्तपाठकर्ता ब्राह्मण संकल्प लेकर सूक्तपाठ करते रहते हैं और श्राद्धकर्ता आचार्यके निर्देशन में अग्रिम श्राद्ध प्रक्रिया का आरम्भ करता है। तीनों कलशों के आगे पश्चिमसे पूर्व की ओर तीन……..

Pustak Ka Vivaran : Unka Sansthapan tatha poojan hota hai. Tadanantar vishnu, brahma tatha Rudrasukton ka path karaneke liye tin Brahmanon ka varan hota hai tatha sookton ka path karate huye kalashon ka abhimantran kiya jata hai. Sooktapathakarta Brahman sankalp lekar sooktapath karte rahate hain aur Shraddhakarta Aacharyake Nirdeshan mein agrim shraddh prakriya ka Aarambh karata hai. Teenon kalashon ke aage pashchimase purv ki or teen……

Description about eBook : They are established and worshipped. Thereafter, three Brahmins are selected to recite Vishnu, Brahma and Rudrasuktas, and while reciting the hymns, kalashas are invited. The reciters of the hymns continue to recite the hymns with a vow and the performer of the shraadh initiates the process of shraadh in advance under the guidance of the Acharya. In front of the three urns, three from west to east……

“महान कार्यों को पूरा करने के लिए न केवल हमें कार्य करना चाहिए बल्कि स्वप्न भी देखने चाहिए। न केवल योजना बनानी चाहिए, अपितु विश्वास भी करना चाहिए।” ‐ एनोटोले फ्रांस
“To accomplish great things, we must not only act but also dream. Not only plan but also believe.” ‐ Anatole France

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment