स्वामी विवेकानंद के उपदेश : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Swami Vivekananad Ke Updesh : Hindi PDF Book – Adhyatmik (Spiritual)

Book Nameस्वामी विवेकानंद के उपदेश / Swami Vivekananad Ke Updesh
Category, , , , ,
Language
Pages 25
Quality Good
Size 2.8 MB

पुस्तक का विवरण : जो महापुरुष प्रचार कार्य के लिए अपना जीवन समर्पित कर देते हैं, वे उन महापुरुषों की तुलना में अपेक्षाकृत अपूर्ण हैं, जो मौन रहकर पवित्र जीवनयापन करते हैं और श्रेष्ठ विचारों का चिन्तन करते हुए जगत्‌ की सहायता करते हैं। इन सभी महापुरुषों में एक के बाद दूसरे का आविर्भाव होता है-अंत में उनकी शक्ति का चरम फलस्वरूप ऐसा कोई शक्तिसम्पन्न पुरुष…………

Pustak Ka Vivaran : Jo Mahapurush prachar kary ke liye apana jeevan samarpit kar dete hain, ve un Mahapurushon ki tulana mein Apekshaakrt apoorn hain, jo maun rahakar pavitr jeevanayapan karate hain aur shreshth vicharon ka chintan karate huye jagat‌ ki Sahayata karate hain. In sabhi Mahapurushon mein ek ke bad doosare ka aavirbhav hota hai-ant mein unki shakti ka charam phalasvaroop aisa koi Shaktisampann purush…………

Description about eBook : The great men who dedicate their lives to the preaching work are relatively imperfect in comparison to those great men who live a holy life by keeping silence and contemplating noble thoughts and help the world. In all these great men, one after the other emerges – in the end the ultimate result of their power is such a powerful man…………

“अगर आप अपने बच्चों के शारीरिक श्रम की हिदायत देते हैं, तो बेहतर है कि आप भी वैसा ही करें। अपने उपदेशों पर स्वयं अमल करें।” ‐ ब्रूस जेनर
“If you’re asking your kids to exercise, then you better do it, too. Practice what you preach.” ‐ Bruce Jenner

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment