श्री विष्णु पुराण : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – पुराण | Shri Vishnu Puran : Hindi PDF Book – Puran

श्री विष्णु पुराण : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - पुराण | Shri Vishnu Puran : Hindi PDF Book - Puran
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name श्री विष्णु पुराण / Shri Vishnu Puran
Category, , ,
Language
Pages 535
Quality Good
Size 39.6 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : हे धर्मज्ञ मैत्रेय ! मेंरे पिताजी के पिता श्रीवसिष्ठ जी ने जिसका वर्णन किया था, उस पूर्व प्रसंग का तुमने मुझे अच्छा स्मरण कराया- (इसके लिये तुम धन्यवाद के पात्र हो ) मैत्रेय ! जब मैंने सुना कि पिताजी को विश्वमित्र की प्रेरणा से राक्षस ने खा लिया है, तो मुझको बड़ा भारी क्रोध हुआ | तब राक्षसों का ध्वंस करने के लिये मैंने यज्ञ करना आरम्भ किया……..

Pustak Ka Vivaran : He dharmagy maitrey ! mere pitaji ke pita Shrivasishth ji ne jiska varnan kiya tha, us purv prasang ka tumne mujhe achchha smaran karaya- (iske liye tum dhanyavad ke patr ho ) maitrey ! jab mainne suna ki pitaji ko Vishvamitr ki prerna se rakshas ne kha liya hai, to mujhko bada bhari krodh hua. Tab rakshason ka dhvans karne ke liye mainne yagy karna aarambh kiya…………

Description about eBook : Maitreya Dharmajaya! My father’s father, Shrivastav ji, told me that you have given me a good reminder of that prejudice – (for this you deserve to be thanked) Maitreya! When I heard that the demon had eaten by the inspiration of Vishwamitra, then I was very angry. Then I started sacrificing to destroy monsters………………

“जब तक किसी व्यक्ति द्वारा अपनी संभावनाओं से अधिक कार्य नहीं किया जाता है, तब तक उस व्यक्ति द्वारा वह सब कुछ नहीं किया जा सकेगा जो वह कर सकता है।” ‐ हेनरी ड्रम्मन्ड
“Unless a man undertakes more than he possibly can do, he will never do all that he can.” ‐ Henry Drummond

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “श्री विष्णु पुराण : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – पुराण | Shri Vishnu Puran : Hindi PDF Book – Puran”

Leave a Comment