आम का बगीचा : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Aam Ka Bagicha : Hindi PDF Book – Drama (Natak)

Book Nameआम का बगीचा / Aam Ka Bagicha
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 108
Quality Good
Size 1 MB
Download Status Available

आम का बगीचा का संछिप्त विवरण : ऐसा लगता है कि इस पुरे अंक का नायक है अनिल जो बड़ी-बड़ी बातें करता है बहुत अच्छी तरह करता है। लेकिन अनिल भी सिर्फ बातें ही करता है। रणवीर एक तरह की बात करता है, अनिल दूसरी तरह की। दोनों में से कोई कुछ कर नहीं सकते। अनिल किसी मसीहा की तरह सामने नहीं आता। रणवीर अधेड़ है बीत जाने वाले……

Aam Ka Bagicha PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Aisa Lagata hai ki is Pure ank ka Nayak hai Anil jo badi-badi baten karata hai bahut Achchhi Tarah karata hai. Lekin Anil bhi Sirph baten hi karata hai. Ranveer ek tarah ki bat karata hai, Anil doosari tarah ki. Donon mein se koi kuchh kar nahin sakate. Anil kisi Masiha ki Tarah Samane nahin aata. Ranveer Adhed hai beet jane vale…….
Short Description of Aam Ka Bagicha PDF Book : It seems that Anil, who is the protagonist of this entire issue, talks very well. But Anil also talks only. Ranveer talks in one way, Anil in another. Neither of them can do anything. Anil does not appear like a messiah. Ranveer is middle aged …….
“एक महान नेता में अपनी दूरदर्शिता को पूरा करने की हिम्मत उत्कंठा से आती है, दर्जे से नहीं।” – जॉन मैक्सवेल
“A great leader’s courage to fulfill his vision comes from passion, not position.” – John Maxwell

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

2 thoughts on “आम का बगीचा : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Aam Ka Bagicha : Hindi PDF Book – Drama (Natak)”

    • पुस्तक भली-भांति डाउनलोड हो रही है आपसे अनुरोध है कि आप पेज को रिफ्रेश करें ओर पुस्तक डाउनलोड करें| पेज को नीचे तक देखें डाउनलोड का बटन आपको दिख जायेगा यदि हो सके तो पेज पर दी गयी जानकारियों को भी अवश्य पढ़ें| धन्यवाद्!

      Reply

Leave a Comment