अनौपचारिका जनवरी 2020 (समकालीन शिक्षा चिंतन की मासिक पत्रिका) : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – पत्रिका | Anaupcharika January 2020 (Samkalin Shiksha Chintan Ki Masik Patrika) : Hindi PDF Book – Magazine (Patrika)

अनौपचारिका जनवरी 2020 (समकालीन शिक्षा चिंतन की मासिक पत्रिका) : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – पत्रिका | Anaupcharika January 2020 (Samkalin Shiksha Chintan Ki Masik Patrika) : Hindi PDF Book – Magazine (Patrika)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name अनौपचारिका जनवरी 2020 (समकालीन शिक्षा चिंतन की मासिक पत्रिका) / Anaupcharika January 2020 (Samkalin Shiksha Chintan Ki Masik Patrika)
Category, , ,
Language
Pages 64
Quality Good
Size 9.7 MB
Download Status Available

अनौपचारिका जनवरी 2020 (समकालीन शिक्षा चिंतन की मासिक पत्रिका) पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : श्यामावन की विशेषता है कि पूरा कुटुम्ब एक सुर में जीता है। सभी बच्चे तन्‍्मय होकर सुरीली आवाज में सुर से सुर मिलाकर अच्छे गीत गाते हैं। गाना वे सब मिलकर सीखते हैं। सहजीवन ही उनका मूल आधार है। श्यामावन में आकर उन्होंने अपनी सृजन यात्रा और स्वावलम्बी शिक्षण यात्रा शुरू कर दी है। इस यात्रा की अपनी एक गति है, लय है, ताल है। सभी उसी लय ताल में निबद्ध हैं……..

Anaupcharika January 2020 (Samkalin Shiksha Chintan Ki Masik Patrika) PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Shyamavan ki Visheshata hai ki poora kutumb ek sur mein jeeta hai. Sabhi bachche tan‍may hokar Surili Aavaj mein sur se sur milakar achchhe geet gate hain. Gana ve sab milkar seekhate hain. Sahajeevan hi unka mool aadhar hai. Shyamavan mein Aakar unhonne apni srjan yatra aur svavalambi shikshan yatra shuru kar di hai. Is Yatra ki apni ek gati hai, lay hai, tal hai. Sabhi usi lay tal mein nibaddh hain……..

Short Description of Anaupcharika January 2020 (Samkalin Shiksha Chintan Ki Masik Patrika) Hindi PDF Book : The specialty of Shyamavan is that the whole family lives in unison. All the children get engrossed and sing good songs in a melodious voice. They all learn to sing together. Symbiosis is their basic foundation. Coming to Shyamavan, he has started his creation journey and self-supporting learning journey. This journey has its own pace, rhythm, rhythm. All are set in the same rhythm…….

 

“जीतना सब कुछ नहीं है, लेकिन जीतना है।” विंस लोम्बार्डी
“Winning isn’t everything, but wanting to win is.” -Vince Lombardi

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment