अवान्तर : प्रो० मायानन्द मिश्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कविता | Avantar : by Prof. Mayanand Mishra Hindi PDF Book – Poem (Kavita)

Book Nameअवान्तर / Avantar
Author
Category, , ,
Language
Pages 35
Quality Good
Size 34 MB
Download Status Available

अवान्तर का संछिप्त विवरण : हवा हमेशा उसके साथ जाती है वह दीवार तोड़ने के लिए अपनी जान दे देगा। जिनके पैर आसमान में उड़ते हैं वो हमेशा उड़ने का फर्क साबित करते हैं। जहां वे अंधेरे में डूबे थे, जहां वे डरते थे, वहां सभी के लिए एक आकाश होगा, और सभी के लिए एक चंद्रमा होगा……..

Avantar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Hava Hamesha uske sath jati hai vah deevar todane ke liye apani jan de dega. Jinake pair Aasman mein udate hain vo hamesha udane ka phark sabit karte hain. Jahan ve andhere mein doobe the, jahan ve darate the, vahan sabhi ke liye ek aakash hoga, aur sabhi ke liye ek chandrama hoga…..
Short Description of Avantar PDF Book : The wind goes with him always he will give his life to break the wall. Whose feet fly in the sky will always prove the difference of flying. Where they were drowned in darkness, where they were afraid, there would be a sky for all, and there would be a moon for all………
“वह व्यक्ति ग़रीब नहीं है जिसके पास थोड़ा बहुत ही है। ग़रीब तो वह है जो ज़्यादा के लिए मरा जा रहा है।” ‐ सैनेका, रोमन दार्शनिक
“It is not the man who has too little, but the man who craves more, that is poor.” ‐ Lucius Annaeus Seneca, Roman Philosopher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment