बृहज्जातकम : केदार जोशी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ज्योतिष | Brahjjatkam : by Kedar Joshi Hindi PDF Book – Astrology (Jyotish)

बृहज्जातकम : केदार जोशी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ज्योतिष | Brahjjatkam : by Kedar Joshi Hindi PDF Book - Astrology (Jyotish)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बृहज्जातकम / Brahjjatkam
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 525
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : वह प्राणीमात्र को भूत भविष्य और वर्तमान काल के शुभ और अशुभ फलों से सावधान रहने की सुचना दे, या पूर्व जन्म के मानव के शुभा-शुभ कर्मों को जान कर उत्तम मानवीय धर्माचरण, सात्विक जप पूजा कर्म से अनिष्ट भविष्य से अपनी सुरक्षा कर सकने का आदेश दे पूर्व जन्म के अशुभ कर्मों से इस जन्म का भविष्य अशुभ होगा ही…….

Pustak Ka Vivaran : Vah Praneematra ko bahut bhavishy aur vartaman kal ke shubh aur ashubh phalon se savadhan rahane kee suchana de, ya poorv janm ke manav ke shubha-shubh karmon ko jan kar uttam manaviy dharmacharan, satvik jap pooja karm se anisht bhavishy se apanee suraksha kar sakane ka aadesh de poorv janm ke ashubh karmon se is janm ka bhavishy ashubh hoga hee…………

Description about eBook : He should alert the creature to beware of the auspicious and inauspicious fruits of the past and present times, or to know the good and auspicious deeds of the human beings of the past life to protect themselves from the evil future with good human devotion, Satvik chanting and worship. Order the inauspicious deeds of previous birth, the future of this birth will be inauspiciouse………..

“जीवन में खुशी का अर्थ लड़ाइयां लड़ना नहीं, बल्कि उन से बचना है। कुशलतापूर्वक पीछे हटना भी अपने आप में एक जीत है।” नॉरमन विंसेंट पील (१८९८-१९९३)
“Part of the happiness of life consists not in fighting battles, but in avoiding them. A masterly retreat is in itself a victory.” Norman Vincent Peale (1898-1993)

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment