जुलूस : बादल सरकार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Juloos : by Badal Sarkar Hindi PDF Book – Drama (Natak)

Book Nameजुलूस / Juloos
Author
Category, , ,
Language
Pages 73
Quality Good
Size 775 KB
Download Status Available

जुलूस का संछिप्त विवरण : नाट्य रचना प्रस्तुति के विशेष स्वरूप को दृष्टि में रखकर की गई है और उसी रूप में वह विशेष प्रभावशाली हो सकती है। जुलूस का अंग बनकर ही हम उसके खोखलेपन को समझ सकते है, जुलूस निकालने वालों से त्रस्त जनता की पीड़ा का अनुभव कर सकते है। मूक अभिनय द्वारा अनेक स्थलों को प्राणवान बनाना होगा, अनेक चित्र खड़े करने होंगे सभी नाटक का कथ्य स्पष्ट हो पाएगा …….

Juloos PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Naty Rachana prastuti ke vishesh svaroop ko drshti mein rakhakar kee gayi hai aur usi roop mein vah vishesh prabhavashali ho sakati hai. Juloos ka ang banakar hee ham usake khokhalepan ko samajh sakate hai, juloos nikalane valon se trast janata ki peeda ka anubhav kar sakate hai. Mook Abhinay dvara anek sthalon ko pranavan banana hoga, Anek chitra khade karane honge sabhee Natak ka kathy spasht ho payega…………
Short Description of Juloos PDF Book : Theatrical composition has been done keeping in mind the particular form of presentation and in that form it can be particularly influential. Only as a part of the procession can we understand its hollowness, we can experience the suffering of the people suffering from the procession. Many places have to be made alive by silent acting, many pictures will have to be made, all the drama will be clear………..
“सोचना आसान होता है। कर्म करना कठिन होता है। लेकिन दुनिया में सबसे कठिन कार्य अपनी सोच के अनुसार काम करना होता है।” ‐ गोएथ
“To think is easy. To act is hard. But the hardest thing in the world is to act in accordance with your thinking.” ‐ Goethe

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment