कामिनाला (काम की खोज में) : मंगल सिंह मुण्डा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Kaminala (Kam Ki Khoj Mein) : by Mangal Singh Munda Hindi PDF Book – Drama (Natak)

Book Nameकामिनाला (काम की खोज में) / Kaminala (Kam Ki Khoj Mein)
Author
Category, , , , , , ,
Language
Pages 82
Quality Good
Size 44.5 MB
Download Status Available

कामिनाला (काम की खोज में) का संछिप्त विवरण : कामिनाला उनका प्रथम नाटक है। इसे समस्या प्रधान नाटक कहा जाएगा। नाटक का मूल विषय आदिवासी युवतियों का महानगरों की ओर पलायन है। आरंभ में महिलाओं का काम की खोज में निकलना दूसरे अर्थ में था, लेकिन समय बीतने के साथ अवैध व्यापार के रूप में रूपांतरण हुआ | पहले गई हुई युवतियाँ सहायक वा मददगार के रूप में गई……..

Kaminala (Kam Ki Khoj Mein) PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kaminala unka pratham Natak hai. Ise Samasya pradhan natak kaha jayega. Natak ka mool vishay Aadivasi yuvatiyon ka Mahanagaron ki or Palayan hai. Aarambh mein Mahilaon ka kam ki khoj mein Nikalana doosare arth mein tha, lekin samay beetane ke sath avaidh vyapar ke roop mein Roopantaran huya . Pahale gayi huyi yuvatiyan sahayak va madadagar ke roop mein gayi……….
Short Description of Kaminala (Kam Ki Khoj Mein) PDF Book : Kaminala is his first play. This would be called problem-oriented drama. The basic theme of the play is the migration of tribal girls to the metropolis. Initially, women’s outings in search of work had a different meaning, but with the passage of time it transformed into trafficking. The girls who went earlier went as assistant or helper………..
“जो कुछ भी इस विश्व को अघिक मानवीय और विवेकशील बनाता है उसे प्रगति कहते हैं; और केवल यही मापदंड हम इसके लिये अपना सकते हैं।” डब्ल्यू. लिपमैन
“Anything that makes the world more humane and more rational is progress; that’s the only measuring stick we can apply to it.” W. Lippmann

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment