किसान राज : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Kisan Raj : Hindi PDF Book

किसान राज : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Kisan Raj : Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name किसान राज / Kisan Raj
Author
Category,
Language
Pages 234
Quality Good
Size 23 MB
Download Status Available

किसान राज का संछिप्त विवरण : विश्व के विकास का इतिहास साक्षी है- किनर किसान होकर ही नर बन सका | और अध्यात्मवाद के कथनानुसार किसान-पथ से ही वह नर से नारायण हो सकेगा | धंधे की द्रष्टि से किसान सर्वश्रेष्ठ धंधा है | कहावत है, उत्तम खेती माध्यम बंज | अधम चाकरी, भीख निदान………

Kisan Raj PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Vishv ke vikas ka itihas sakshi hai- kinnar kisan hokar hi nar ban saka. Aur adhyatmavad ke kathananusar kisan-path se hi vah nar se narayan ho sakega. Dhandhe ki drashti se kisan sarvashresht dhandha hai. Kahavat hai, uttam kheti madhyam banj. Adham chakari, bhikh nidan…………………………………
Short Description of Kisan Raj PDF Book : The history of the world’s development is witnessing – Kinner could become a male by becoming a farmer. According to spiritualism, the farmer-path can only be Narayan from the male. Farmer is the best business in terms of business. The saying is, the best farming medium bungee. The Bad Servant, The Neglect………………………
“वह व्यक्ति ग़रीब नहीं है जिसके पास थोड़ा बहुत ही है। ग़रीब तो वह है जो ज़्यादा के लिए मरा जा रहा है।” ‐ सैनेका, रोमन दार्शनिक
“It is not the man who has too little, but the man who craves more, that is poor.” ‐ Lucius Annaeus Seneca, Roman Philosopher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment