क्रांति का अगला कदम : दादा धर्माधिकारी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Kranti Ka Agla Kadam : by Dada Dharmadhikari Hindi PDF Book – Social (Samajik)

क्रांति का अगला कदम : दादा धर्माधिकारी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Kranti Ka Agla Kadam : by Dada Dharmadhikari Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name क्रांति का अगला कदम / Kranti Ka Agla Kadam
Author
Category,
Pages 62
Quality Good
Size 27 MB
Download Status Available

क्रांति का अगला कदम का संछिप्त विवरण : लोकराज्य की स्थापना का पहला परिणाम यह है कि अब इस देश में हिमालय से लेकर कन्याकुमारी और सदिया से लेकर द्वारिका तक॒ किसी भी जगह कोई राजा नहीं है। पाँच-सात साल पहले किसी को कल्पना भी नहीं थी कि ऐसा शुभ दिन इतनी जल्दी आयगा | आज दिल्ली के तख्त पर किसी व्यक्ति………

Kranti Ka Agla Kadam PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Lokrajy ki sthapana ka pahla parinam yah hai ki ab is desh mein himalay se lekar kanyakumari aur sadiya se lekar dvarika tak kisi bhi jagah koi Raja nahin hai. Panch-sat sal pahale kisi ko kalpana bhi nahin thee ki aisa shubh din itani jaldi aayaga. Aaj Delhi ke takht par kisi vyakti………
Short Description of Kranti Ka Agla Kadam PDF Book : The first result of the establishment of Lokrajya is that now there is no king anywhere in this country from Himalayas to Kanyakumari and from Sadiya to Dwarka. Five-seven years ago no one could have imagined that such an auspicious day would come so soon. Somebody on the throne of Delhi today………
“किसी व्यक्ति का व्यक्तित्व उसके विचारों का समूह होता है; जो वह सोचता है, वैसा वह बन जाता है।” ‐ महात्मा गांधी
“A man is but the product of his thoughts; what he thinks, he becomes.” ‐ Mahatma Gandhi

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment