लाटरी : प्रेमचन्द द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Lottery : by Premchand Hindi PDF Book – Story (Kahani)

Book Nameलाटरी / Lottery
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 25
Quality Good
Size 5.4 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : -इसका तुम्हें अख्तियार है, लेकिन मेरे रुपये में से तुम्हें कुछ न मिल सकेगा। मेरी जुरूरतें देखो। तुम्हारे घर में काफी जायदाद है। तुम्हारे सिर कोई बोझ नहीं, मेरे सिर तो सारी गृहस्थी का बोझ है। दो बहनों का विवाह है, दो भाइयों की शिक्षा है, नया मकान बनवाना है। मैंने तो निश्चय कर लिया है कि सब रुपये सीधे बैंक में जमा कर दूँगा………

Pustak Ka Vivaran : Iska Tumhen Akhtiyar hai, lekin mere Rupaye mein se tumhen kuchh na mil sakega. Meri Jurooraten dekho. Tumhare ghar mein kaphi jaydad hai. Tumhare sir koi bojh nahin, mere sir to sari Grhasthi ka bojh hai. Do bahanon ka vivah hai, do bhaiyon ki shiksha hai, naya makan banvana hai. Mainne to Nishchay kar liya hai ki sab Rupaye seedhe Bank mein jama kar dunga……..

Description about eBook : You have the power for it, but you will not get anything out of my money. Look at my needs You have a lot of property in your house. Your head is not a burden, my head is the burden of the whole household. Two sisters are married, two brothers have education, a new house has to be built. I have decided that I will deposit all the money directly in the bank……….

“धन कमाने की आस में निकलना जीवन की सबसे भारी गलती है। वही करें जिसमें आपकी रुचि हो, और यदि आप उसमें निपुण हैं, धन अपने आप आएगा।” ग्रीअर गार्सन
“Starting out to make money is the greatest mistake in life. Do what you feel you have a flair for doing, and if you are good enough at it, the money will come.” Greer Garson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment