सभी मित्र, हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे और नाम जप की शक्ति को अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये
वीडियो देखें

हिंदी संस्कृत मराठी ब्लॉग

महान वैज्ञानिक लुई पैस्चर / Mahan Vaigyanik Louis Pasteur

महान वैज्ञानिक लुई पैस्चर : मैरी जोसफ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - जीवनी | Mahan Vaigyanik Louis Pasteur : by Mary Joseph Hindi PDF Book – Biography (Jeevani )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name महान वैज्ञानिक लुई पैस्चर / Mahan Vaigyanik Louis Pasteur
Author
Category, , ,
Language
Pages 24
Quality Good
Size 1 MB
Download Status Available

सभी मित्र हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे, ज्यादा से ज्यादा ग्रुप में शेयर करें| भगवान नाम जप की शक्ति को पहचान कर उसे अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये|

पुस्तक का विवरण : एक दिन लुई ने एक व्यक्ति को लुहार की दुकान में जाते हुए देखा । लुई को पता चला कि उस व्यक्ति को पागल कुत्ते ने काट लिया है । उसने देखा कि लुहार ने एक लोहे की छड़ लेकर उसे खूब लाल गरम किया और फिर उस व्यक्ति के पांव के उस हिस्से पर रख दिया जहां पागल कुत्ते ने काटा था। वह व्यक्ति दर्द के कारण ज़ोर से चिल्लाया | उसकी आवाज़ लुई के कानों में जीवन भर……

Pustak Ka Vivaran : Ek Din Louis ne ek vyakti ko luhar ki dukan mein jate huye dekha . Louis ko pata chala ki us vyakti ko pagal kutte ne kat liya hai . Usane dekha ki luhar ne ek lohe ki chhad lekar use khoob lal garam kiya aur phir us vyakti ke panv ke us hisse par rakh diya jahan pagal kutte ne kata tha. Vah vyakti dard ke karan zor se chillaya . Usaki Aavaz louis ke kanon mein jeevan bhar……

Description about eBook : One day Louis saw a man walking into a blacksmith shop. Louis finds out that the person has been bitten by a mad dog. He saw that the blacksmith took an iron rod and heated it very red and then placed it on the part of the person’s foot where the mad dog had bitten. The person screamed out loud due to the pain. Her voice rang in Louis’s ears for a lifetime ……..

“गुस्से से ज्ञान का प्रकाश बुझ जाता है।” ‐ आर. जी. इंगरसोल
“Anger blows out the candle of the mind.” ‐ R. G. Ingersoll

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment