परशुराम कल्पसूत्रम : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Parashuram Kalpsutram : Hindi PDF Book – Granth

Book Nameपरशुराम कल्पसूत्रम / Parashuram Kalpsutram
Author
Category, , ,
Language
Pages 852
Quality Good
Size 484 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इस कार्य को संपादित करने के मेरे वादे और इसके प्रदर्शन के बीच लगभग पाँच वर्ष बीत चुके हैं; और इस देरी के लिए कुछ स्पष्टीकरण की आवश्यकता है। 1917 के उत्तरार्ध में बड़ौदा सेंट्रल लाइब्रेरी के अपने मित्र पंडित आर, अनातकृष्ण शास्त्री के कहने पर मैंने गायकवाड़ के लिए परशुरिमा-कल्प-सित्र और नित्योत्सव का संपादन करने का बीड़ा उठाया……..

Pustak Ka Vivaran : Is Kary ko Sampadit karne ke mere vade aur iske pradarshan ke beech lagbhag panch varsh beet chuke hain; aur is deri ke liye kuchh spashteekaran ki Aavashyakata hai. 1917 ke uttarardh mein badauda sentral laibreri ke apane mitra pandit aar, anatakrshn shastri ke kahane par mainne Gayakavad ke liye parashurima-kalp-sitr aur nityotsav ka sampadan karne ka beeda uthaya.

Description about eBook : About five years have elapsed between my promise to edit this work and its performance; and this delay requires some explanation. It was in the latter part of 1917 that at the tequest of my friend Pandit R, Anaatakrishna Sastri of the Baroda Central Library, I undertook to edit Parasurima-Kalpa-Sittra and Nityotsava for the Gaekwad’s……..

“अपनी खुशियों के प्रत्येक क्षण का आनन्द लें; ये वृद्धावस्था के लिए अच्छा सहारा साबित होते हैं।” ‐ क्रिस्टोफर मोर्ले
“Cherish all your happy moments: they make a fine cushion for old age.” ‐ Christopher Morley

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment