सभयता की देन : श्री लक्ष्मीचन्द्र भाजपेयी द्वारा हिन्दी पीडीऍफ़ पुस्तक | Sabhayta ki Den : by Shri Lakshmichandra Hindi PDF Book

सभयता की देन : श्री लक्ष्मीचन्द्र भाजपेयी द्वारा हिन्दी पीडीऍफ़ पुस्तक | Sabhayta ki Den : by Shri Lakshmichandra Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सभयता की देन / Sabhayta ki Den
Category, ,
Pages 157
Quality Good
Size 9 MB
Download Status Available

सभयता की देन का संछिप्त विवरण : में वाजपेई जी से अनेक बरसो से परिचित हूँ | वह कहानियों के द्वारा साहित्य की सेवा कर रहे है | उनके कई संग्रह साहित्यको के हाथो में पहुँच चुके है | वाजपेई जी ने अनुग्रह करके ‘सभयता की देन’ संग्रह विशेष रूप से पढ़ने का मुझे अवसर दिया | एतदर्थ में वाजपेई जी का कृतज्ञ हूँ……

Sabhayta ki Den PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mein Vajapayee ji se anek baraso se parichit hoon. Vah kahaniyon ke dvaara sahitya ki seva kar rahe hai. Unke kai sangrah sahityako ke hatho mein pahunch chuke hai. Vajapaee ji ne anugrah karke sabhayata ki den sangrah vishesh roop se padhne ka mujhe avasar diya. Atadarth mein Vajapayee ji ka kratagy hoon……..
Short Description of Sabhayta ki Den PDF Book : I am acquainted with Vajpayee ji for many years. They are serving literature through stories. Many of his collections have reached the hands of the writers. Vajpayee gifted me an opportunity to specially read the collection of ‘decentralization’. At present, I am thankful to Vajpayee………
“संतान पैदा करने का निर्णय लेना – यह बड़ा ही भारी काम है। यह निर्णय अपने ही हृदय को हमेशा के लिए शरीर से बाहर भेज देने जैसा है।” ‐ एलिज़ाबेथ स्टोन
“Making the decision to have a child – it is momentous. It is to decide forever to have your heart go walking around outside your body.” ‐ Elizabeth Stone

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment