सोहाग बिंदी : गणेश प्रसाद द्विवेदी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Sohag Bindi : by Ganesh Prasad Dwivedi Hindi PDF Book – Drama (Natak)

Book Nameसोहाग बिंदी / Sohag Bindi
Author
Category, , ,
Language
Pages 185
Quality Good
Size 11.55 MB
Download Status Available

सोहाग बिंदी का संछिप्त विवरण : हिंदी में मौलिक नाटक का नितांत आभाव है, विशेषकर ‘आधुनिक, नाटक का | मुझे यह आभाव बहुत दुःख देता है | नाटक-लेखक में जिस प्रकार की और जितनी प्रतिभा, शिक्षा और अभ्यास की आवश्यकता है वह मुझमे है या नहीं मुझे नहीं मालूम, शायद नहीं है | अभी तक मेरी नितांत नगण्य साहित्य-सेवा कुछ अन्य क्षेत्रों तक ही परिमित थी…..

Sohag Bindi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Hindi mein maulik natak ka nitant aabhav hai, visheshkar aadhunik, natak ka. Mujhe yah aabhav bahut duhkh deta hai. Natak-lekhak mein jis prakar ki aur jitni pratibha, shiksha aur abhyas ki aavashyakta hai vah mujhme hai ya nahin mujhe nahin malum, shayad nahin hai. Abhi tak meri nitant nagany sahity-seva kuchh any kshetron tak hi parimit thi…………
Short Description of Sohag Bindi PDF Book : There is a complete lack of original drama in Hindi, especially in the modern, drama. This lack of pain makes me sad. The kind of talent, education and practice that the play-writer requires in me or not, I do not know, maybe not. So far, my absolute negligible literature was finite to some other areas……………….
“मैंने यह पाया है कि यदि आप जिंदगी को प्यार करते हैं, तो जिंदगी भी आपको प्यार करती है।” ‐ आर्थर रूबिन्स्टीन
“I have found that if you love life, life will love you back.” ‐ Arthur Rubinstein

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment