हिंदी संस्कृत मराठी मन्त्र विशेष

तकषी की कहानियाँ / Takashi Ki Kahaniyan

तकषी की कहानियाँ : तकषी शिवशंकर पिल्लै द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Takashi Ki Kahaniyan : by Takashi Shivashankar Pillai Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name तकषी की कहानियाँ / Takashi Ki Kahaniyan
Author
Category, , , ,
Language
Pages 166
Quality Good
Size 2.68 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : केरल का इतिहास प्राचीन है, लेकिन इसकी भाषा मलयालम पूर्णत विकसित सत्ता के रूप में एक हजार वर्ष से अधिक प्राचीन नहीं है। मलयालम द्रविड़ भाषा परिवार से सम्बच्धित है, जिसकी अन्य प्रमुख सदस्य भाषाएं है, तमिल तेलगु तथा कन्नड़। मलयालम स्वयं तमिक के अत्यधिक निकट आयी तथा एक बिंदु पर ये दोनों…….

Pustak Ka Vivaran : Keral ka Itihas pracheen hai, Lekin isaki bhasha malayalam poornat vikasit satta ke roop mein ek hajar varsh se adhik pracheen nahin hai. Malayalam dravid bhasha parivar se sambandhit hai, jisaki any pramukh sadasy bhashayen hai, tamil telagu tatha kannad. malayalam svayan tamik ke atyadhik nikat aayi tatha ek bindu par ye donon…………
Description about eBook : The history of Kerala is ancient, but its language Malayalam as a fully developed entity is not more than a thousand years old. Malayalam belongs to the Dravidian language family, whose other major member languages ​​are Tamil, Telugu and Kannada. Malayalam itself came very close to Tamik and at one point these two………..
“आप आज किसी वृक्ष की छाया में बैठे हैं क्योंकि किसी ने बहुत समय पहले एक पौधा लगाया था।” ‐ वॉरन बफैट
“Someone is sitting in the shade today because someone planted a tree a long time ago.” ‐ Warren Buffett

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment