आओ गढ़ें संस्कारवान पीढ़ी गर्भ संस्कार : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Aao Gadhen Sanskarvan Peedhi Garbh Sanskar : Hindi PDF Book – Social (Samajik)

आओ गढ़ें संस्कारवान पीढ़ी गर्भ संस्कार : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Aao Gadhen Sanskarvan Peedhi Garbh Sanskar : Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आओ गढ़ें संस्कारवान पीढ़ी गर्भ संस्कार / Aao Gadhen Sanskarvan Peedhi Garbh Sanskar
Category, ,
Language
Pages 2
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

आओ गढ़ें संस्कारवान पीढ़ी गर्भ संस्कार का संछिप्त विवरण : माता पिता से केवल शरीर ही नहीं प्राप्त होता, मन और संस्कार भी प्राप्त होते हैं। ऋषियों ने जीवात्मा के जन्म जन्मान्तरों एवं माता पिता के संसर्ण से उत्पन्न दोषों के परिमार्जन तथा शुभ संस्कारों के रोपण का कार्य गर्भाधान के साथ ही सम्पन्न करने का विधान बनाया था | गर्भाधान पुंसवन एवं सीमन्तोन्‍्नयन संस्कार इसी प्रक्रिया के अंग…….

Aao Gadhen Sanskarvan Peedhi Garbh Sanskar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mata Pita se keval shareer hi nahin prapt hota, Man aur Sanskar bhi prapt hote hain. Rishiyon ne jeevatma ke janm Janmantaron evan Mata Pita ke sansarn se utpann doshon ke parimarjan tatha shubh sanskaron ke Ropan ka kary Garbhadhan ke sath hi sampann karane ka vidhan banaya tha. Garbhadhan Punsavan evan Seemanton‍nayan sanskar isi prakriya ke ang………
Short Description of Aao Gadhen Sanskarvan Peedhi Garbh Sanskar PDF Book : Not only the body is received from the parents, mind and sanskars are also received. The rishis had enacted the process of scavenging the faults arising out of the birth of the soul and the birth of parents and the planting of auspicious rites along with conception. Conception, Mass and Simultaneous Rites are part of the same process ……
“उन लोगों से दूर रहें जो आप आपकी महत्त्वकांक्षाओं को तुच्छ बनाने का प्रयास करते हैं। छोटे लोग हमेशा ऐसा करते हैं, लेकिन महान लोग आपको इस बात की अनुभूति करवाते हैं कि आप भी वास्तव में महान बन सकते हैं।” ‐ मार्क ट्वेन
“Keep away from people who try to belittle your ambitions. Small people always do that, but the really great make you feel that you, too, can become great.” ‐ Mark Twain

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment