अकाल पुरुष गाँधी : जैनेन्द्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Akaal Purush Gandhi : by Jainendra Kumar Hindi PDF Book

अकाल पुरुष गाँधी : जैनेन्द्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Akaal Purush Gandhi : by Jainendra Kumar Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name अकाल पुरुष गाँधी/ Akaal Purush Gandhi
Author
Category, ,
Pages 256
Quality Good
Size 27.3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : कई साल पहले गांधीजी पर अंग्रेजी में लिखे गए एक उपन्यास की समीक्षा में उन्होंने पढ़ा था कि गांधीजी पर एक सफल उपन्यास लिखने के लिए टॉल्स्टॉय को भारत में जन्म लेना होगा, क्योंकि गांधी के लिए एक लिखना लगभग असंभव है। विदेशियों के लिए सफल उपन्यास। स्मरण रहे कि इसी सन्दर्भ में मैंने जैनेन्द्र को गांधीजी पर एक उपन्यास लिखने को कहा था। यह भी याद रखें कि उनके जवाब की उम्मीद नहीं थी। तभी से मेरे मन में यह इच्छा बनी हुई है कि जयेंद्र गांधी जी से संबंधित विचारों का एक संपूर्ण संकलन किया जाएगा………

Pustak Ka Vivaran : Kayi sal pahale Gandhi ji par angreji mein likhe gaye ek upanyas ki samiksha mein unhonne padha tha ki gandhi ji par ek saphal upanyas likhane ke lie tolstoy ko bharat mein janm lena hoga, kyonki gandhi ke liye ek likhana lagbhag asambhav hai. Videshiyon ke liye saphal upanyas. smaran rahe ki…….

Description about eBook : In a review of a novel on Gandhiji written in English many years ago, he read that Tolstoy would have to be born in India to write a successful novel on Gandhi, as it is almost impossible for Gandhi to write one. Successful novels for foreigners. remember that……..

“कर्म सही या गलत नहीं होता है। लेकिन जब कर्म आंशिक, अधूरा होता है, सही या गलत की बात तब सामने आती है।” – ब्रूस ली
“Action is not a matter of right and wrong. It is only when action is partial, not total, that there is right and wrong.” – Bruce Lee

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment