अकेली : राजेश भटनागर द्वारा हिंदी ऑडियोबुक | Akeli : by Rajesh Bhatnagar Hindi Audiobook

Akeli : by Rajesh Bhatnagar Hindi Audiobook
पुस्तक का विवरण / Book Details
AudioBook Name अकेली / Akeli
Author
Category, ,
Language
Duration 12:26 Min
Source archive.org

Akeli : by Rajesh Bhatnagar Hindi Audiobook का कुछ अंश : आज स्कूल से आने के बाद न जाने क्यों उसे सूने मकान और बंद कमरे में घुटन हो रही थी| पापा रोजाना की तरह अपने-अपने काम पर गए हुए थे| उसने इस घुटन से उबरने के साथ ही बगल वाले बंगले का जायजा लेने की दृष्टि से बालकनी का दरवाजा खोल दिया| बालकनी में आकर ठंडी हवा के झोंकों से सराबोर होकर उसने कुछ चैन महसूस किया, तभी उसकी नजर अचानक उसके घर तक पहले बगल वाले बंगले में एक बूढ़ी औरत पर पड़ गई| उसे इतने दिनों में पहली बार उस सूने बंगले में किसी को देखा था सफेद साड़ी में लिपटी रुई की तरह सफेद उलझे बालों में वो नंगे पैर ही बंगले के बड़े बगीचे में अमरुद बीनती बीनती उसके मकान तक आ पहुंची थी….

“आप विवाह के समारोह का तो अभ्यास कर सकते है, लेकिन विवाह का नहीं।” ‐ अल बेट्ट
“You can rehearse a wedding but not a marriage.” ‐ Al Batt

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment