चिढ़ का चौताल : प्रफुल्ल कोलख्यान द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Chidh Ka Chautal : by Prafull Kolkhyan Hindi PDF Book – Social (Samajik)

चिढ़ का चौताल : प्रफुल्ल कोलख्यान द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Chidh Ka Chautal : by Prafull Kolkhyan Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name चिढ़ का चौताल / Chidh Ka Chautal
Author
Category, ,
Language
Pages 3
Quality Good
Size 594 KB
Download Status Available

चिढ़ का चौताल का संछिप्त विवरण : इस लाल बादाम का उच्चारण होते ही बहस उचट जाती है और गाली-गलौज का मनोर॑जक दौर शुरू होता है। एक दृश्य उभरता है, जिसमें तिलमिलाते हुए अकेले मामा होते हैं और होती है खिलखिलाती हुई उनकी पूरी मंडली! समापन मामा के उद्घोष से होता है, जिसमें उन लोगों से कभी बात न करने का संकल्प होता है…….

Chidh Ka Chautal PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is Lal Badam ka uchcharan hote hi bahas uchat jati hai aur Gali-Galauj ka Manoranjak daur shuru hota hai. Ek drshy ubharata hai, jisamen Tilmilate huye Akele Mama hote hain aur hoti hai Khilkhilati huyi unki poori Mandali ! Samapan Mama ke udghosh se hota hai, jisamen un logon se kabhi bat na karne ka Sankalp hota hai…….
Short Description of Chidh Ka Chautal PDF Book : As soon as this red almond is uttered, the debate erupts and an amusing round of abuses begins. A scene emerges, in which there are only uncles in a tizzy and their whole troupe is in a tizzy! It ends with the announcement of Mama, in which it is resolved to never talk to those people………
“यदि आप एक वर्ष की व्यवस्था कर रहे हैं, तो चावल उगाएं; यदि आप एक दशक की व्यवस्था कर रहे हैं, तो वृक्ष लगाएं; अगर आप जीवनभर की व्यवस्था कर रहे हैं, तो लोगों को शिक्षा दें।” चीन की कहावत
“If you are planning for a year, sow rice; if you are planning for a decade, plant trees; if you are planning for a lifetime, educate people.” Chinese proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment