दर्दे दिल : सुखदेव प्रसाद सिन्हा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Darde Dil : by Sukhdev Prasad Sinha Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

Book Nameदर्दे दिल / Darde Dil
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 241
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

दर्दे दिल पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : दिल वाले ‘विवरण : ‘दिल’ एक अजीब चीज है – ‘दिल’ की बात ही निराल ‘दिल’ की कदर करते है। ‘दिल नहीं ‘ तो कुछ नहीं है। ‘ ‘दिल’ ही का संसार में सारा खेल है। ‘दिल’ ही का प्रेम की दुनिया ,महत्व है ‘दिल ‘ ऐसी वैसी चीज नहीं। ‘दिल’ ही का प्रेम की दुनिया में महत्त्व है।

Darde Dil PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Ajeeb cheej hai – dil kee bat hee niralee hai dil aisi vaisi cheej nahin. ;dil vale dil kee kadar karate hai. Dil nahin to kuchh nahin hai. Dil hee ka prem kee duniya mein mahattv hai. Dil hee ka sansar mein saara khel hai. Dil hee ka prem kee duniya ,mahatv hai…………

Short Description of Darde Dil Hindi PDF Book : ‘Dil’ is a strange thing – the matter of ‘heart’ is unique, ‘Dil’ is not such a thing. ; Hearts appreciate ‘heart’. ‘No heart’ is nothing. The heart itself is important in the world of love. ‘Dil’ is the whole game in the world. The world of love is the importance of ‘heart’……….

 

“कुछ लोग जिसे ग़लती से जीवन स्तर की बढ़ती कीमतें समझ बैठते हैं, वह वास्तव में बढ़ चढ़ कर जीने की कीमत होती है।” ‐ डग लारसन
“What some people mistake for the high cost of living is really the cost of living high.” ‐ Doug Larson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment