गायत्री की गुप्त शक्तियाँ हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Gayatri ki Gupt Shaktiyan Hindi PDF Book

गायत्री की गुप्त शक्तियाँ हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Gayatri ki Gupt Shaktiyan Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name गायत्री की गुप्त शक्तियाँ / Gayatri ki Gupt Shaktiyan
Author
Category,
Language
Pages 33
Quality Good
Size 1.1 MB
Download Status Available

गायत्री की गुप्त शक्तियाँ का संछिप्त विवरण : गायत्री सनातन एवं अनादी मन्त्र है | पुराणों में कहा गया है की सृष्टिकर्ता ब्रह्मा को आकाशवाणी द्वारा गायत्री मंत्र प्राप्त हुआ था, इसी गायत्री की साथना करके उन्हें सृष्टि निर्माण की शक्ति प्राप्त हुई | गयात्री के चार चरणों की व्याख्या स्वरूप ही ब्रह्मा जी ने चार मुखो से चार वेदों का वर्णन किया……….

 

Gayatri ki Gupt Shaktiyan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : gaayatree sanaatan evan anaadee mantr hai. puraanon mein kaha gaya hai kee srshtikarta brahma ko aakaashavaanee dvaara gaayatree mantr praapt hua tha, isee gaayatree kee saadhana karake unhen srshti nirmaan kee shakti praapt huee. gayaatree ke chaar charanon kee vyaakhya svaroop hee brahma jee ne chaar mukho se chaar vedon ka varnan kiya………….
Short Description of Gayatri ki Gupt Shaktiyan PDF Book : Gayatri is Sanatan and eternal mantra. The Puranas have said that the creator Brahma had received the Gayatri Mantra by Akashwani, by practicing this Gayatri, he got the power to create the universe. Brahma ji described four Vedas with four faces, as explained in the four stages of Gayatri…………..
“एक बार काम शुरू कर लें तो असफलता का डर नहीं रखें और न ही काम को छोड़ें। निष्ठा से काम करने वाले ही सबसे सुखी हैं।” चाणक्य
“Once you start a working on something, don’t be afraid of failure and don’t abandon it. People who work sincerely are the happiest.” Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment