गेहूँ के जवारे का विकल्प पालक : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Gehun Ke Javare Ka Vikalp Palak : Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameगेहूँ के जवारे का विकल्प पालक / Gehun Ke Javare Ka Vikalp Palak
Author
Category, ,
Language
Pages 30
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : गेहूं घास के उगाने में बहुत झंझट है। एक तो घर में बीमार है और वह भी असाध्य कह कर जांचों ने बता दिया कि रोग जटिल है शायद ही अच्छा हो, ऑपरेशन से ठीक हो जाये तो हो जाये। कराना उचित है, चिकित्सकों ने घोषित कर दिया। ऐसी स्थिति में बीमार भी भयभीत, घर वाले भी भयभीत, सबके……..

Pustak Ka Vivaran : Gehun ghas ke ugane mein bahut jhanjhat hai. Ek to ghar mein beemar hai aur vah bhee asaadhy kah kar janchon ne bata diya ki rog jatil hai shayad hee achchha ho, opareshan se theek ho jaye to ho jaaye. karana uchit hai, chikitsakon ne ghoshit kar diya. Aisi sthiti mein beemar bhee bhayabheet, ghar vale bhee bhayabheet, sabake…………

Description about eBook : There is a lot of trouble in growing wheat grass. One is ill at home and by saying that he is incurable, the investigators have told that the disease is complicated, it is rarely good, if it is cured by the operation, it will be done. It is worth doing, doctors declared. In this situation, the sick is also afraid, the people of the house are also afraid,………………

“जिसे इंसान से प्रेम है और इंसानियत की समझ है, उसे अपने आप में ही संतुष्टि मिल जाती है।” ‐ स्वामी सुदर्शनाचार्य जी
“Whoever loves and understands human beings will find contentment within.” ‐ Swami Shri Sudarshnacharya ji

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment