आर्ष – चिन्तन के विकल्प : रामचन्द्र सरोज द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Aarsh – Chintan Ke Vikalp : by Ramchandra Saroj Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

Book Nameआर्ष - चिन्तन के विकल्प / Aarsh - Chintan Ke Vikalp
Author
Category, ,
Pages 185
Quality Good
Size 26
Download Status Available

आर्ष – चिन्तन के विकल्प का संछिप्त विवरण : रामचन्द्र सरोज के निबन्धों के क्षेत्र में प्रवेश करते ही, हम ऐसे संसार में पहुँच जाते हैं जहाँ हमारी परम्पराओं, पूर्वाग्रहों एवं धारणाओं की बहुत-सी इमारतें, जो बाहर से भव्य और आकर्षक दिखाई देती हैं, अन्दर से खोखली प्रतीत होने लगती हैं। हम खोखले आदर्शों से मुक्त होकर यथार्थ का साक्षात्कार करने को बाध्य हो जाते हैं। सब…….

Aarsh – Chintan Ke Vikalp PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Ramchandra Saroj ke Nibandhon ke kshetra mein pravesh karte hi, ham aise sansar mein pahunch jate hain jahan hamari paramparaon, poorvagrahon evan dharanaon ki bahut-see imaraten, jo bahar se bhavy aur aakarshak dikhayi deti hain, andar se khokhalee prateet hone lagti hain. Ham khokhale aadarshon se mukt hokar yatharth ka sakshatkar karane ko badhy ho jate hain. Sab…….
Short Description of Aarsh – Chintan Ke Vikalp PDF Book : As soon as we enter the realm of essays of Ramchandra Saroj, we reach a world where many buildings of our traditions, prejudices and beliefs, which look grand and attractive from outside, seem hollow from inside. We become free from hollow ideals and compelled to face reality. All…….
“प्रेरणा के पीछे सबसे महत्त्वपूर्ण बात लक्ष्य तय करना होता है। आपका हमेशा एक लक्ष्य अवश्य होना चाहिए।” फ्रैंसी लैरियू स्मिथ
“The most important thing about motivation is goal setting. You should always have a goal.” Francie Larrieu Smith

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment