कबीर बीजक : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Kabir Beejak : Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

Book Nameकबीर बीजक / Kabir Beejak
Author
Category, , ,
Pages 307
Quality Good
Size 2.5 MB
Download Status Available

कबीर बीजक का संछिप्त विवरण : कबीर प्रेम का नाम है। कबीर दर्शन, एकता और सद्भाव का भी नाम है। कबीर का संगम प्रयाग के संगम से ज्यादा गहरा है। वहां कुरान और वेद ऐसे खो गए हैं कि कोई अंतर ही नहीं रह गया है। कबीर का मार्ग सीधा और साफ है। पंडित नहीं चल पाएगा इस मार्ग पर। निर्दोष और कोरा कागज जैसा मन ही चल पाएगा उस पर……….

Kabir Beejak PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kabir prem ka nam hai. Kabir darshan, ekata aur sadbhav ka bhi nam hai. Kabir ka sangam prayag ke sangam se jyada gahara hai. Vahan kuran aur ved aise kho gae hain ki koi antar hi nahin rah gaya hai. Kabeer ka marg seedha aur saaph hai. Pandit nahin chal payega is marg par. nirdosh aur kora kagaj jaisa man hi chal payega us par……….
Short Description of Kabir Beejak PDF Book : Kabir is the name of love. Kabir is also the name of philosophy, unity and harmony. The confluence of Kabir is deeper than the confluence of Prayag. There the Quran and the Vedas are lost in such a way that there is no difference. Kabir’s path is straight and clear. Pandit will not be able to walk on this path. The mind will be able to walk on it like an innocent and blank paper……….
“कल उनका है जिन्हें अपने सपनों की खूबसूरती में यकीन हो।” ‐ एलेनोर रूसवेल्ट
“The future belongs to those who believe in the beauty of their dreams.” ‐ Eleanor Roosevelt

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment