कल्याणमल : के० एम० पणिकर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Kalyanmal : by K. M. Panikar Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

कल्याणमल : के० एम० पणिकर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - उपन्यास | Kalyanmal : by K. M. Panikar Hindi PDF Book - Novel (Upanyas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name कल्याणमल / Kalyanmal
Author
Category, , , ,
Language
Pages 236
Quality Good
Size 5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : “ठीक है। नगर में कहीं एक छोटा-सा मकान किराये पर लेकर रहना ही उचित है। राजा पीथल की सेना में काम मिलने से बादशाह के दृष्टि-पथ में आने के अनेक अवसर मिल सकते हैं और में जानता हूँ, ऐसे अवसर आप स्वयं ढूंढ निकालेंगे। एक बात और कहानी है। आज जो मित्र दिखाई देते है वही कल एक-दूसरे का गला काटने पर तुले……….

Pustak Ka Vivaran : Theek hai. Nagar mein Kahin Ek chhota-sa Makan kiraye par lekar rahana hee uchit hai. Raja Peethal kee sena mein kam milane se Badshah ke drshti-path mein aane ke anek avasar mil sakate hain aur main janata hoon, Aise avasar aap svayan dhoondh Nikalenge. Ek bat aur kahani hai. Aaj jo Mitra Dikhayi dete hai vahi kal ek-doosare ka gala katane par tule……..

Description about eBook : ”Okay. It is advisable to rent a small house somewhere in the city. By getting work in the army of King Peeth, you can get many opportunities to enter the path of the king and I know, you will find such opportunities yourself. There is one more story. Today the friends who see you are bent on cutting each other’s throat ………

“महान उपलब्धियां, लगातार की जाने वाली छोटी छोटी उपलब्धियों का कुल योग होती हैं।” ‐ क्रिस्टोफर मोरले
“Big shots are only little shots who keep shooting.” ‐ Christopher Morley

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment