नेहरू द्वय : गोपीनाथ दीक्षित द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Nehru Dvay : by Gopinath Dikshit Hindi PDF Book – Social (Samajik)

नेहरू द्वय : गोपीनाथ दीक्षित द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Nehru Dvay : by Gopinath Dikshit Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name नेहरू द्वय / Nehru Dvay
Author
Category, , , ,
Language
Pages 104
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : संसार के इतिहास पूष्ठों में ऐसे उदाहरण उंगुलियों पर गिन॑ने योग्य ही मिलते है पिता और पुत्र ने एक दूसरे से चढ़ बढ़ कर ख्याति पायी हो | प्राय: यशस्वी पिताओं के अज्ञात पुत्र और अज्ञात पिताओं के बड़ा बीटा होना एक आकस्मिक घटना है | इंग्लैंड में इस आकस्मिक घटना के तीन उदाहरण मिलते है…..

Pustak Ka Vivaran : Sansar ke itihas prshthon mein aise udaharan unguliyon par ginanne yogy hi milate hai pita aur putr ne ek doosare se chadh badh kar khyati payi ho. Pray: yashasvi pitaon ke agyat putr aur agyat pitaon ke bada beta hona ek aakasmik ghatana hai . Englend mein is aakasmik ghatana ke teen udaharan milate hai…………

Description about eBook : Such examples in the history pages of the world can be counted on fingers, father and son have gained glory by climbing to each other. Often, being a big beta of unknown sons and unknown fathers of successful fathers is a sudden event. In England there are thre…….

“अच्छी किताब एक जादुई कालीन की तरह है जो आहिस्ते से हमें उस दुनिया की सैर कराती है जहां दूसरी किसी चीज़ के ज़रिए हम प्रवेश नहीं कर सकते।” ‐ कैरोलीन गॉर्डोन (१८९५-१९८१)
“A well-composed book is a magic carpet on which we are wafted to a world that we cannot enter in any other way.” ‐ Caroline Gordon (1895-1981)

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment