फलों की खेती और व्यवसाय : नारायण दुलीचंद व्यास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Phalo Ki Kheti Or Vyavsay : by Narayan Dulichand Vyas Hindi PDF Book

फलों की खेती और व्यवसाय : नारायण दुलीचंद व्यास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Phalo Ki Kheti Or Vyavsay : by Narayan Dulichand Vyas Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name फलों की खेती और व्यवसाय / Phalo Ki Kheti Or Vyavsay
Category
Language
Pages 260
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

फलों की खेती और व्यवसाय का संछिप्त विवरण : यह देखते हुए की भारतवर्ष शाकाहारियो का देश है और जहाँ पर प्रकृति की कृपा से सब प्रकार के फलो की खेती के योग्य भूमि और जलवायु विधमान है- समस्त संसार में आज उच्च कोटि का फल व्यवसायी हमारे देश को होना चाहिये परन्तु खेद है की अन्य विषयों की भांति इस कला में भी यह बहुत पिछड़ा हुआ है……….

Phalo Ki Kheti Or Vyavsay PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Yah dekhte hue ki bharatvarsh shakahariyo ka desh hai aur jahan par prakrti ki krpa se sab prakar ke phalo ki kheti ke yogy bhumi aur jalvayu vidhman hai- samast sansar mein aaj ucch koti ka phal vyavsayi hamare desh ko hona chahiye parantu khed hai ki any vishayon ki bhanti is kala mein bhi yah bahut pichda hua hai……………
Short Description of Phalo Ki Kheti Or Vyavsay PDF Book : Given that India is a country of vegetarians, and where with the grace of nature, all the fruits of cultivation have the right to cultivate land and climate – in the whole world today the high quality fruit businessmen should be our country, but sorry that other topics Like in this art, it is very backward……………
“विकल्पों का न होना बुद्धि को बढ़िया ढंग से परिमार्जित कर देता है।” ‐ हेनरी ए किसिंगर, नोबेल विजेता व भूतपूर्व अमरीकी विदेश मंत्री
“The absence of alternatives clears the mind marvelously.” ‐ Henry A. Kissinger, Nobel Laureate and former American Foreign Minister

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment