प्रणय पत्रिका : बच्चन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – काव्य | Pranay Patrika : by Bachchan Hindi PDF Book – Poetry (Kavya)

प्रणय पत्रिका : बच्चन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - काव्य | Pranay Patrika : by Bachchan Hindi PDF Book - Poetry (Kavya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name प्रणय पत्रिका / Pranay Patrika
Author
Category, , , , , ,
Language
Pages 142
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : “प्रणय पत्रिका” के गीत आपके सामने हेँ। कह नहीं सकता कि इनमें आपको मेरी पिछली रचनाओं से कुछ नवीनता या विशेषता का आभास होगा या नहीं। मुझे तो इन्हें प्रकाशन के लिए भेजते समय अनायास ही “मिलन यामिनी” की एक पंक्ति बार-बार याद आ रही है: लेकिन में तो बेरोक सफ़र में जीवन के इस एक और पहलू से होकर निकल चला पुस्तक की प्रेस कापी तैयार करने…….

Pustak Ka Vivaran : Pranay Patrika” ke geet Aapake samane hen. Kah nahin sakata ki inamen Aapako meri pichhali rachanayon se kuchh navinata ya visheshata ka Aabhas hoga ya nahin. Mujhe to inhen prakashan ke liye bhejate samay anayas hi “Milan yamini” ki ek pankti bar-bar yad aa rahi hai: Lekin mein to berok safar mein jeevan ke is ek aur pahaloo se hokar nikal chala pustak ki press Copy taiyar karane……..

Description about eBook : The songs of Pranay Patrika are in front of you. Can not say whether you will feel some novelty or specialty from my previous compositions. While sending them for publication, I have been repeatedly missing a line of “Milan Yamini”: But I went through this one more aspect of life in unrestrained journey to prepare the press copy of the book ……..

“सफलता का एक ही सूत्र है और वह जब अन्य हिम्मत हार चुके हों तो भी आप डटे रहते हैं।” ‐ विलियम फैदर
“Success seems to be largely a matter of hanging on after others have let go.” ‐ William Feather

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment