प्रेरणा – प्रवाह : विनोबा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Prerana – Pravah : by Vinoba Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

प्रेरणा - प्रवाह : विनोबा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Prerana - Pravah : by Vinoba Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name प्रेरणा – प्रवाह / Prerana – Pravah
Author
Category, ,
Language
Pages 188
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : आज कोई दयालु लोग भी हिंसा के खिलाफ नहीं है। वे एटम बम के खिलाफ है, लेकिन फांसी के खिलाफ नहीं है। इसलिए एटम बम का उपयोग बंद हो ऐसा चाहने वाले सीमित हिंसा चले, चाहत है। वह इसलिए कि दंड चल गये। उन बोई शस्त्र ने तो इन छोटे शास्त्र कह सकते है। यह विचार साफ नहीं हो रहा है की अहिंसा के हित में क्या क्या किया जा सकता……

Pustak Ka Vivaran : Aaj koi Dayalu log bhi Hinsa ke khilaph nahin hai. Ve Atom bam ke khilaph hai, Lekin Fansi ke khilaph nahin hai. Isaliye etam bam ka upayog band ho aisa chahane vale seemit hinsa chale, chahat hai. Vah isaliye ki dand chal gaye. Un boi shastra ne to in chhote shastra kah sakate hai. Yah vichar saph nahin ho raha hai ki Ahinsa ke hit mein kya kya kiya ja sakata hai……….

Description about eBook : Today, no compassionate people are against violence. They are against Atom bomb, but not against hanging. Therefore, limited violence should be sought by those who want to stop using Atom bomb. That’s because the punishments went away. Those sowing weapons can say these small scriptures. The idea is not clear as to what can be done in the interest of non-violence …….

"कल है लेकिन आज की याद है, और कल आज का सपना है।" खलील जिब्रानी
“Yesterday is but today’s memory, and tomorrow is today’s dream.” Khalil Gibran

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment