वाल्मीकि रामायण तथा आयुर्वेद : डॉ. प्रेरणा माथुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आयुर्वेद | Valmiki Ramayan Tatha Ayurveda : by Dr. Prerana Mathur Hindi PDF Book – Ayurveda

वाल्मीकि रामायण तथा आयुर्वेद : डॉ. प्रेरणा माथुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - आयुर्वेद | Valmiki Ramayan Tatha Ayurveda : by Dr. Prerana Mathur Hindi PDF Book - Ayurveda
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name वाल्मीकि रामायण तथा आयुर्वेद / Valmiki Ramayan Tatha Ayurveda
Author
Category, , ,
Language
Pages 590
Quality Good
Size 98 MB
Download Status Available

वाल्मीकि रामायण तथा आयुर्वेद का संछिप्त विवरण : संस्कृत कविता का जन्म प्रकृति की गोद में हुआ, यह मेरी दृढ़ आस्था है। दार्शनिक पदावली में कहूँ तो कवि प्रतिभा कविता का यदि निमित्त कारण है तो प्रकृति उसका ‘अपादान कारण”। इस सत्य के दर्शन हमें वेदमंत्रों में ही होते हैं जब उषस्‌-सूक्त में ऋषि उषा के विलक्षण-सौन्दर्य को नाना प्रतिमानों एवं अप्रस्तुत विधानों से आँकता है……

Valmiki Ramayan Tatha Ayurveda PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Sanskrt kavita ka janm prakrti ki God mein huya, yah meri drdh Aastha hai. Darshanik padavali mein kahun to kavi pratibha kavita ka yadi Nimitt karan hai to prakrti usaka apadan karan”. Is saty ke darshan hamen vedamantron mein hi hote hain jab ushas‌-sookt mein rishi usha ke vilakshan-saundary ko nana pratimanon evan aprastut vidhanon se Aankata hai……….
Short Description of Valmiki Ramayan Tatha Ayurveda PDF Book : Sanskrit poetry was born in the lap of nature, it is my firm faith. In philosophical terms, if the poet is the reason for genius poetry, then nature is his “cause of harm”. We see this truth only in Vedamantras when in the Ush-Sukta, we find out the unique beauty and beauty of the sage Usha with various patterns and unproven laws …….
“अगर आपके पास आज का काम ठीक से करने का वक़्त नहीं है तो आपके पास इसे फिर से करने का समय कब होगा?” जॉन वुडन
“If you don’t have time to do it right, when will you have time to do it over?” John Wooden

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment