रहीम के दोहे मुफ्त हिंदी पुस्तक | Rahim ke Dohe Free Hindi Pdf | Hindi Pdf Books

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name रहीम के दोहे / Rahim ke Dohe
Author
Category,
Language
Pages 698
Quality Good
Size 13 MB
Download Status Available

रहीम के दोहे पुस्तक का कुछ अंश : जीवन को आसान और उपयोगिता समझाने वाले रहीम दास के दोहे चाय में डाली गयी शक्कर के जैसे हैं, जो थोड़ी सी डालने पर ही पूरी चाय को मीठा कर देते हैं. रहीम जी के दोहे अनंत काल तक ऐसे ही सभी के जीवन को प्रकाशित करते रहेंगे, इसमें कोई शक नहीं है. यह हमेशा ही उतने महत्वपूर्ण रहेंगे जितने अकबर के समय में थे……..

Rahim ke Dohe PDF Pustak Ka Kuch Ansh : Jeevan ko Aasan aur upyogita samjhane vale raheem das ke dohe chay mein dali gayi shakkar ke jaise hain, jo thodi si dalane par hi poori chay ko meetha kar dete hain. Rahim ji ke dohe anant kal tak aise hi sabhi ke jeevan ko prakashit karate rahenge, isamen koi shak nahin hai. Yah hamesha hi utane mahatvapurn rahenge jitane akbar ke samay mein the……..
Short Passage of Rahim ke Dohe PDF Book : Rahim Das’s couplets, which explain life to be easy and useful, are like sugar added to tea, which makes the whole tea sweet even after adding a little bit. There is no doubt that Rahim ji’s couplets will continue to illuminate everyone’s life like this till eternity. It will always be as important as it was in Akbar’s time.
“एक इंसान एक इंसान है चाहे कितना ही छोटा क्यों न हो।” ‐ डॉ स्युस
“A person’s a person no matter how small.” ‐ Dr. Seuss

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment