सामदेव का परिशीलन : ओमप्रकाश पाण्डेय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Samdev Ka Parisheelan : by Om Prakash Pandey Hindi PDF Book – Granth

Book Nameसामदेव का परिशीलन / Samdev Ka Parisheelan
Author
Category, , , ,
Language
Pages 394
Quality Good
Size 126.7 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इस प्रकार सामवेदीय ब्राह्मणो में निहित समस्त श्रीतयाग, प्रायश्चित प्रयोग काम्यकर्म और अभिचारिक अनुष्ठान, इस परिच्छेद के 150 से भी अधिक पूष्ठों में वियेचित है। इस सन्दर्भ में ब्राह्मण ग्रंथों के अतिरिक्त आर्षेय और क्षुद्र कल्पसूत्रों, लाट्यायन और ब्राह्मण श्रौतसूत्रों तथा इनके वरदानराज प्रभुति व्याख्याकारों का शास्त्री ……….

Pustak Ka Vivaran : Is Prakar samavedeey brahmano mein nihit samast shrautayag, prayashchit prayog kamyakarm aur abhicharik anushthan, is parichchhed ke 150 se bhee adhik prshthon mein viyechit hai. Is sandarbh mein brahman granthon ke atirikt aarshey aur kshudr kalpasootron, laatyayan aur brahman shrautasootron tatha inake varadanaraj prabhuti vyakhyakaron ka shastreer…………

Description about eBook : In this way, all the sroutayagas, atonement experiments, kamyākāramas, and ritual ceremonies contained in the Samavedaya Brahmins are covered in more than 150 pages of this passage. In this context, in addition to the Brahmin texts, the Shastri and small Kalpasutras, the Latyayan and the Brahmin Shrutasutras and their boon king Prabhuti interpreters…………

“किसी व्यक्ति के दिल-दिमाग को समझने के लिए इस बात को न देखें कि उसने अभी तक क्या प्राप्त किया है, अपितु इस बात को देखें कि वह क्या अभिलाषा रखता है।” – कैहलिल जिब्रान
“To understand the heart and mind of a person, look not at what he has already achieved, but at what he aspires to.” – Kahlil Gibran

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment