सर्वोदय विचार : विनोबा भावे द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Sarvoday Vichaar : by Vinoba Bhave Hindi PDF Book

सर्वोदय विचार : विनोबा भावे द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Sarvoday Vichaar : by Vinoba Bhave Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सर्वोदय विचार / Sarvoday Vichaar
Author
Category, ,
Pages 98
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

सर्वोदय विचार पुस्तक का कुछ अंश : एक साल पहले इसी दिन और ठीक इसी समय वह घटना घटी की जिसके कारण हम सबको हमेशा के लिए शर्मिंदा होना पड़ेगा। लेकिन वह घटना ऐसी भी है की जिससे हुमे चिरतन प्रकाश मिल सकता है। उस घटना ने हुमे देह और आत्मा का पृथक्‍्करण अच्छी तरह सीखा दिया है…..

Sarvoday Vichaar PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Ek saal pahale isi din aur theek isi samay vah ghatana ghati ki jisake kaaran ham sabako hamesha ke lie sharminda hona padega. lekin vah ghatana aisi bhi hai ki jisase hume chiratan prakaash mil sakata hai. us ghatana ne hume deh aur aatma ka prthakkaran achchhee tarah sikha diya hai…………
Short Passage of Sarvoday Vichaar Hindi PDF Book : This incident happened a year ago and at the same time, the incident happened due to which we all will have to be ashamed forever. But that event is such that by which the light can get a permanent light. That incident has taught well the separation of body and soul…………..
“कठिनाईयों का अर्थ आगे बढ़ना है, न कि हतोत्साहित होना। मानवीय भावना का अर्थ द्वन्द्व से और अधिक मजबूत होना होता है।” ‐ विलियम एल्लेरी चैन्निंग
“Difficulties are meant to rouse, not discourage. The human spirit is to grow strong by conflict.” ‐ William Ellery Channing

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment