शिक्षा की परीक्षा : रमेश थानवी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Shiksha Ki Pariksha : by Ramesh Thanavi Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameशिक्षा की परीक्षा / Shiksha Ki Pariksha
Author
Category,
Language
Pages 64
Quality Good
Size 3.5 MB
Download Status Available

शिक्षा की परीक्षा का संछिप्त विवरण : आजादी की यही चाहत विश्व के इस सबसे बड़े लोकतंत्र का आधार रही है। यह नींव तुमने ही रखी थी नचिकेता! सिर्फ नौ वर्ष की उम्र में तुम यमराज के सामने खड़े थे ! सशरीर ! पिता की आज्ञा का पालन एक तो तुमने किया था और एक दशरथ के बेटे राम ने। तुम्हारी सत्यान्वेषण की इसी विरासत को स्वीकार कर, महात्माजी आजादी की लड़ाई लड़े थे…..

Shiksha Ki Pariksha PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Azadi ki yahi chahat vishv ke is sabase bade loktantra ka Aadhar rahi hai. Yah Neenv tumane hi Rakhi thee Nachiketa! Sirph nau varsh ki umr mein tum yamraj ke samane khade the ! Sashareer ! Pita ki Aagya ka palan ek to tumane kiya tha aur ek dasharath ke bete Ram ne tumhari Satyanveshan ki isi virasat ko svikar kar, Mahatmaji Azadi ki ladai lade the……..
Short Description of Shiksha Ki Pariksha PDF Book : This desire for independence has been the basis of this largest democracy in the world. You laid this foundation, Nachiketa! At the age of just nine, you stood in front of Yamraj! Body! You did obey the father’s command and Rama, the son of Dasharatha. By accepting this legacy of your truth, Mahatma had fought for freedom ……
“ऐसा छात्र जो प्रश्न पूछता है, वह पांच मिनट के लिए मूर्ख रहता है, लेकिन जो पूछता ही नहीं है वह जिंदगी भर मूर्ख ही रहता है।” ‐ चीनी कहावत
“The student who asks is a fool for five minutes, but he who does not ask remains a fool forever.” ‐ Chinese Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment