सूर्यपुराण : डॉ. चमनलाल गौतम द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Suryapuran : by Dr. Chaman Lal Hindi PDF Book – Granth

सूर्यपुराण : डॉ. चमनलाल गौतम द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Suryapuran : by Dr. Chaman Lal Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सूर्यपुराण / Suryapuran
Author
Category, ,
Language
Pages 497
Quality Good
Size 7 MB
Download Status Available

सूर्यपुराण का संछिप्त विवरण : इस सौर पुराण इतनी बड़ी महिमा है कि जो कोई भी इसके दो श्लोक अथवा केवल एक ही श्लोक का पाठ कर लिया करता है और परम श्रद्धा से युक्त होता है वह भले ही कितना ही पापों के कर्मो का करने वाला क्यों न हो इसके प्रभाव से सीधा पापों से मुक्त होकर भगवान सूर्य देव…..

Suryapuran PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is Saur Puran itani badi Mahima hai ki jo koi bhee isake do shlok athava keval ek hee shlok ka path kar liya karata hai aur param shraddha se yukt hota hai vah bhale hee kitana hee papon ke karmo ka karane vala kyon na ho isake prabhav se seedha papon se mukt hokar bhagavan soory dev…………
Short Description of Suryapuran PDF Book : This Solar Purana is such a great glory that whoever recites two verses or only one of its verses and is full of reverence, no matter how much one commits the deeds of sins, directly from its effect Lord Sun God free from sins………..
“कर्म की उत्पत्ति विचार में है, अतः विचार ही महत्त्वपूर्ण हैं।” साई बाबा
“All action results from thought, so it is thoughts that matter.” Sai Baba

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment