स्वर्ण रहस्यम – रस तंत्र : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – तंत्र-मंत्र | Swarn Rahasyam Ras Tantra : Hindi PDF Book – Tantra-Mantra

Book Nameस्वर्ण रहस्यम - रस तंत्र / Swarn Rahasyam Ras Tantra
Category, ,
Language
Pages 25
Quality Good
Size 410 KB
Download Status Available
चेतावनी यह पुस्तक केवल शोध कार्य के लिए है| इस पुस्तक से होने वाले परिणाम के लिए आप स्वयं उत्तरदायी होंगे न कि 44Books.com

पुस्तक का विवरण : रस तंत्र के उत्थान के लिए जितना परिश्रम नाथ योगियों ने किया है, उतना किसी और ने नहीं किया, बल्कि ये कहा जाये की नाथ योगियों से ही इस विद्या के प्रादुर्भाव को सार्थकता मिली है | इन नाथ योगियों ने ही अपनी अथक तपस्या से सृष्टि के उन गोपीनीय रहस्यों की आत्मसात किया और उन सूत्रों के सहयोग से विभिन्न क्रियाओ, पर्क्रियाओं, त्तवों, पदार्थों, वनस्पति का योग पारद के साथ किया……….

Pustak Ka Vivaran : Ras tantr ke utthan ke lie jitna parishram nath yogiyon ne kiya hai, utna kisi aur ne nahin kiya, balki ye kaha jaye ki nath yogiyon se hi is vidya ke pradurbhav ko sarthakta mili hai. In nath yogiyon ne hi apni athak tapasya se srshti ke un gopiniy rahasyon ki aatmasat kiya aur un sutron ke sahayog se vibhinn kriyao, parkriyaon, tattvon, padartho, vanaspati ka yog parad ke sath kiya…………

Description about eBook : The hard work done by the Nath Yogis for the upliftment of the juice system is not done by anybody else, but it should be said that the Nad Yogis only got the significance of this Vidya. These Nath Yogis, through their untiring penance, assimilated those gopānī secrets of creation, and with the help of those sources, with the help of varad krio, parikria, elements, substances and vegetation, with the mercury………………

“जिसके पास स्वास्थ्य है, उसके पास आशा है तथा जिसके पास आशा है, उसके पास सब कुछ है।” अरबी कहावत
“He who has health has hope, and he who has hope has everything.” Arabian Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment