तारों का उपहार : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Taron Ka Uphar : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

तारों का उपहार : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - बच्चों की पुस्तक | Taron Ka Uphar : Hindi PDF Book - Children's Book (Bachchon Ki Pustak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name तारों का उपहार / Taron Ka Uphar
Author
Category, , , ,
Language
Pages 19
Quality Good
Size 1.6 MB
Download Status Available

तारों का उपहार का संछिप्त विवरण : नन्‍्ही लड़की को बहुत ठंड लग रही थी. वह बहुत थक भी गई थी. वह एक पेड़ के नीचे बैठ गई, अपना एप्रन उसने अपने शरीर पर लपेट लिया और ठंड से बचने के लिए अपने को पत्तों से ढकने का उसने प्रयास किया. आज से पहले इतनी ठंड और दुर्बलता उसने कभी महसूस न की थी. फिर नन्ही लड़की रोने लगी क्योंकि वह बहुत भयभीत और अकेली थी…

Taron Ka Uphar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Nanhi Ladki ko bahut thand lag rahi thee. Vah bahut thak bhi gaeyi thee. Vah ek ped ke Neeche baith gayi, Apana epran usane apane shareer par lapet liya aur thand se bachane ke liye apane ko patton se dhakane ka usane prayas kiya. Aaj se pahale itani thand aur durbalata usane kabhi mahsoos na ki thee. Phir nanhi ladaki Rone lagi k‍yonki vah bahut bhaybheet aur akeli thi………
Short Description of Taron Ka Uphar PDF Book : The little girl was feeling very cold. She was also very tired. She sat under a tree, wrapped her apron on her body and tried to cover herself with leaves to avoid the cold. He had never felt such cold and weakness before today. Then the little girl started crying because she was very scared and alone………
“अच्छे मित्र के साथ कोई भी मार्ग लंबा नहीं होता है।” ‐ तुर्की की कहावत
“No road is long with good company.” ‐ Turkish Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment